Main

Today's Paper

Today's Paper

हैरतअंगेज मामला:माँ की  बेटी को डाटना पड़ा भारी ,बुलडाग ने ली जान 

लंदन: ब्रिटेन में एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है. यहां एलाएने स्टैनली (44) नाम की महिला की दो पालतू कुत्तों के हमले में मौत हो गई. जबकि वो कुत्ते भी उसी घर में, उसी छत के नीचे रहते थे. जानकारी के मुताबिक दोनों कुत्ते बुलडॉग ब्रीड के हैं और उन्हें लगा कि स्टैनली की बेटी खतरे में है. इसके बाद दोनों ने ही स्टैनली पर हमला बोल दिया.
 साल 2019 का है. लेकिन इस मामले की कोर्ट में सुनवाई चल रही है. इसलिए ये मामला फिर से सुर्खियों में आ गया. ब्रिटेन में दरअसल, पालतू जानवरों को भी पालने को लेकर कानून है. कानून के मुताबिक आप अगर अपने खतरनाक जानवरों को संभाल नहीं पाते, या वो गुस्से में अपना आपा खोकर आप की भी नहीं सुनते, तो आपको सजा हो सकती है. अब स्टैनली के पति पर आरोप है कि उन्होंने खतरनाक कुत्तों को पाला था. 
खबर ये भी है कि स्टैनली के पति को साल 2016 में ऐसे ही एक मामले में सजा भी हो चुकी है, जिसमें उनके कुत्तों ने एक अन्य कुत्ते के मालिक पर हमला बोल दिया था और उसे काटकर अधमरा कर दिया था. 
कोर्ट में सुनवाई के दौरान स्टैनली की बेटी ने बयान दर्ज कराया. उसने बताया कि वो बाहर से आई थी. तभी किसी बात पर उसकी मां से बहस हो गई. इस दौरान दोनों कुत्ते वहीं थे. लेकिन मेल कुत्ते डीजे ने उनकी मां पर हमला बोल दिया. इसके तुरंत बाद फीमेल यानी बिली भी इस हमले में शामिल हो गई. इस दौरान उसने कुत्तों को रोकने की भरपूर कोशिश की, लेकिन वो बेकाबू हो चुके थे. इसके बाद पड़ोसियों ने पत्थर मारकर कुत्तों को दूर किया और स्टेनली को लेकर अस्पताल पहुंचे. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. 

कोर्ट में गवाही के दौरान मौजूद रहे एक विशेषज्ञ ने कहा कि बुलडॉग नस्ल के कुत्ते खतरनाक शिकारी होते हैं. लेकिन वो स्वामिभक्त होते हैं. ऐसे में उन्हें अगर लगता है कि उनके मालिक की जिंदगी पर कोई खतरा है, तो वो रौद्र रूप में आ जाते हैं. ऐसा ही उस समय भी हुआ, जब स्टैनली अपनी बेटी पर चिल्ला रही थी. ऐसे में कुत्तों को लगा कि वो मां-बेटी की जिंदगी के लिए खतरा बन सकती है. जिसके बाद उन्होंने स्टैनली पर हमला बोल दिया. 

Share this story