UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 8:51 PM

विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया

आजमगढ़। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, आजमगढ़ द्वारा “आजादी का अमृत महोत्सव“ के आयोजन हेतु माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार तथा मा0 जनपद न्यायाधीश/ अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण आजमगढ़ के दिशा-निर्देशों के अनुपालन में तहसील निजामाबाद, विकास खण्ड मिर्जापुर जनपद आजमगढ़ में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, आजमगढ़ सुश्री अनीता द्वारा की गई। इस विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन कोविड-19 हेतु पारित दिशा निर्देशों का पूर्णत अनुपालन व सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए किया गया। सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, आजमगढ़ द्वारा बताया गया कि सभी बच्चों के लिए उ0प्र0 सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना आरम्भ की गई है। इस योजना के माध्यम से बच्चों को आर्थिक सहायता के साथ कई अन्य सुविधाऐं भी प्रदान की जायेगी, जिससे वह अपना जीवन यापन कर सकें। सचिव ने महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करते हुए बताया कि वे जिस भी क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहती हैं, वे उस क्षेत्र में मेंहनत करके आगे बढ़ सकती है, कोई भी ऐसा क्षेत्र नहीं है जिसमें महिलायें काम नहीं कर रही है। महिलायें शिक्षित होगी तो उनका परिवार भी शिक्षित होगा तथा वे एक शिक्षित समाज का निर्माण करेंगी। शिविर में उपस्थित आम जन को सचिव ने विधिक जागरूकता के माध्यम से उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया तथा शिविर में उपस्थित लोगों को बताया कि वे आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से अपने मुकदमों का सुलह समझौता के आधार पर निस्तारण करा सकते है। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बेटी बचाओ बेटी पढाओं योजना पर प्रकाश डाला तथा बताया कि बेटियाँ आज हर क्षेत्र में नये कीर्तिमान स्थापित कर रही है। इस मौके पर तहसीलदार निजामाबाद, खण्ड विकास मिर्जापुर के अधिकारी व कर्मचारीगण, प्रभारी निरीक्षक, महिलायें, आंगनबाडी कार्यकत्री इत्यादि लोग उपस्थित रहे।