Main

Today's Paper

Today's Paper

पहली बार PM ने नहीं किया फोन?

पहली बार PM ने नहीं किया फोन?
बंगाल विधानसभा चुनावों में जीत के महज 24 घंटे के बाद ही ममता बनर्जी ने ऐसा बयान दिया है जिससे यह संकेत मिल रहे हैं कि केंद्र सरकार के साथ उनका टकराव इस कार्यकाल में और बढ़ सकता है। दरअसल, ममता बनर्जी ने कहा है कि यह पहली बार होगा जब किसी प्रधानमंत्री ने फोन कर के बधाई संदेश न दिया हो। 
ममता ने यह बयान तब दिया है जब पीएम मोदी 2 मई यानी नतीजों के दिन ही ट्वीट के जरिए उन्हें बधाई संदेश दे चुके हैं। पीएम मोदी ने बंगाल सरकार को केंद्र की ओर से हर संभव मदद दिए जाने का भी आश्वासन दिया था। 
ममता ने यह संकेत भी दिए कि वह 2024 में महागठबंधन का नेतृत्व कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि वह सिर्फ एक जमीनी नेता हैं। वह लोगों में उत्साह भर सकती हैं ताकि वे बीजेपी के खिलाफ लड़ सकें। उन्होंने कहा कि कोई भी सबकुछ अकेले नहीं कर सकता। ममता ने कहा, 'मुझे लगता है कि हम सब मिलकर 2024 की लड़ाई लड़ सकते हैं, पहले कोरोना से लड़ते हैं।' 
ममता की जीत के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया था, 'बंगाल में जीत के लिए ममता दीदी को बधाई। केंद्र लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए और कोरोना महामारी को दूर करने के लिए बंगाल सरकार को हर संभव समर्थन देना जारी रखेगा।' 
बता दें कि चुनाव में जीते के बाद ममता ने अपने पहले संबोधन में भी बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा था कि पार्टी ने गंदी राजनीति की। वह चुनाव हार गई।

Share this story