Main

Today's Paper

Today's Paper

चेतावनी निशान के कितने पास बह रही गंगा 

GANGA

 देहरादून:उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में हो रही बारिश के बाद हरिद्वार और ऋषिकेश में दूसरे दिन भी गंगा चेतावनी के समीप बहती दिखी। मंगलवार सुबह 8 बजे गंगा का जल स्तर 292.90 मीटर दर्ज किया गया। चेतावनी में मात्र 10 सेंटीमीटर नीचे गंगा बह रही थी।  मौसम विभाग ने उत्तराखंड के कई इलाकों में बुधवार और गुरुवार को भारी बारिश की आशंका जताई है। इसे लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। उधर बारिश के दौरान सोमवार रात को प्रेमगर आश्रम से पूरब की ओर गंगनहर किनारे शहीद भगत सिंह घाट की लगभग 20 फीट लंबी दीवार टूट गई। बहुद्देशीय साधन सहकारी समिति सलेमपुर मेहदूद स्थित दादुपुर गोविंदपुर के भवन की बाहरी चारदीवारी भी टूट गई।


बीते 24 घंटों के अंदर तहसील हरिद्वार में 56.0 एमएम और रोशनाबाद में 48.0 एमएम बारिश रिकार्ड की गई है। आपदा प्रबंधन अधिकारी हरिद्वार मीरा कैंन्तुरा ने इसकी पुष्टि की है। इसी साल संपन्न हुए कुंभ मेले आयोजन से पहले कुंभ निधि से प्रेमनगर पुल के समीप गंगनहर पर शहीद भगत सिंह घाट का निर्माण किया गया था। घाट के ऊपर की बीस फीट की दीवार टूट गई। जिससे एक बैंच को भी नुकसान पहुंचा है। कुंभ निधि से बनाए गए इस घाट की दीवार गिरने और पिलर में दरारें आने से निर्माण की गुणवत्ता पर भी सवाल उठने लगे हैं।

उधर, गंगा का जल स्तर मंगलवार को दिन भर चेतावनी स्तर से नीचे ही घटता बढ़ता रहा। मंगलवार सुबह 9 बजे तक भीमगोड़ा बैराज में ऊपर से 142547 क्यूसेक पानी आ चुका था। जिसमें से 134893 क्यूसेक पानी को छोड़ दिया गया था। पहाड़ों में बारिश होने के कारण तटीय इलाके से सटे गांव समेत बाढ़ चौकियों को अलर्ट पर रखा गया है। सोमवार रात तक उपजिलाधिकारी अंशुल सिंह ने टीम के साथ श्यामपुर क्षेत्र की बाढ़ चौकियों का औचक निरीक्षण किया। उत्तराखंड के कई इलाकों में बुधवार और गुरुवार को भारी बारिश की आशंका है। इसे लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है।


 

Share this story