Main

Today's Paper

Today's Paper

 पुलिसकर्मी ने नाबालिग से धमकाकर किया रेप फिर...

REOP

 काशीपुर : वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुंवर ने जसपुर थाने में तैनात एक दरोगा और पुलिसकर्मी को ड्यूटी में लापरवाही पर निलंबित कर दिया है। दरोगा और सिपाही पर घर से फरार नाबालिग किशोरी से बीते दिनों डरा-धमकाकर हुए दुष्कर्म के मामले में लापरवाही का आरोप लगा है। किशोरी से दुष्कर्म करने का आरोपी पुलिसकर्मी और एक युवक इस मामले में पहले ही जेल भेजे जा चुके हैं। एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने कोतवाली जसपुर के एसआई प्रदीप पंत और सिपाही प्रवीण रावत को निलंबित किया है। बताया जा रहा है कि पिछले माह एसआई प्रदीप पंत को जसपुर के एक स्थान पर एक किशोरी और लड़के के होने की सूचना मिली थी।

दरोगा एक सिपाही प्रवीण को साथ लेकर दोनों को बाजार चौकी ले आया। दरोगा उस वक्त नारकोटिस एक्ट की फर्द बनाने में लगे थे। काम में व्यस्त होने के कारण प्रदीप पंत ने चौकी में बैठे सिपाही अमित बिष्ट और सिपाही प्रवीण को किशोरी और युवक को कोतवाली ले जाने के लिए कहा था। रास्ते में सिपाही अमित बिष्ट ने बहाना बनाकर साथी सिपाही प्रवीण को उतार दिया। इसके बाद अमित ने किशोरी को जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया था। कोतवाल जेएस देउपा ने बताया कि एसएसपी ने एसआई और सिपाही को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर सस्पेंड किया है।
काशीपुर के कटोराताल क्षेत्र से 17 जून को एक नाबालिग किशोरी संदिग्ध हालात में घर से लापता हो गई थी। किशोरी की गुमशुदगी उसके दादा ने कटोराताल चौकी में दर्ज कराई थी। गुमशुदगी के बाद पुलिस ने आठ जुलाई को किशोरी को काशीपुर के हरियावाला क्षेत्र से बरामद कर लिया था। एसपी प्रमोद कुमार ने किशोरी के बयान के बाद जसपुर थाने में तैनात कार चालक पुलिसकर्मी अमित बिष्ट पुत्र बीएस बिष्ट और किशोरी के दोस्त शाहनवाज पुत्र शाहिद हुसैन निवासी भूप सिंह कॉलोनी जसपुर को गिरफ्तार कर लिया था। दोनों आरोपी अभी जेल में हैं।
 

Share this story