UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 10:44 AM

जिला कारागार में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का किया गया आयोजन

प्रतापगढ़ ।   राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ द्वारा ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ मनाये जाने के सम्बन्ध में दिये गये दिशा निर्देश व जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संजय शंकर पाण्डेय के मार्गदर्शन में मंगलवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव नीरज कुमार त्रिपाठी द्वारा जिला कारागार का निरीक्षण करने के पश्चात् सचिव की अध्यक्षता में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में सचिव ने बन्दियों से उनकी परेशानियों व विधिक समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की एवं उनको उनके अधिकारों के बारे में अवगत कराया जिसका उनके द्वारा लाभ लिया जा सकता है। शिविर में उपस्थित बन्दियों से उनके स्वास्थ्य एवं खान-पान के बारे में जानकारी प्राप्त की गयी। सचिव द्वारा जेल में निरूद्ध बन्दियों को विधिक जानकारी प्रदान की गयी।
इस अवसर पर जेल विजिटर विश्वनाथ त्रिपाठी एडवोकेट ने बन्दियों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया और बताया कि यदि किसी बन्दी के पास अधिवक्ता की सुविधा उपलब्ध नहीं है तो उसे जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा अपने मुकदमें की पैरवी के लिये निःशुल्क अधिवक्ता की सुविधा प्रदान की जाती है। जेल में लीगल एण्ड क्लीनिक की स्थापना की गयी है। जिससे किसी बन्दी को कोई समस्या हो तो वह जेल में स्थापित लीगल एण्ड क्लीनिक के माध्यम से विधिक सहायता प्राप्त कर सकता है। इस अवसर पर अधीक्षक को अवगत कराया गया कि जिन बन्दियों की जेल अपील की जानी है उनके प्रार्थना पत्र कार्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में अति शीघ्र उपलब्ध करायें जिससे बन्दियों की जेल अपील की कार्यवाही की जा सके। इस अवसर पर राजेन्द्र प्रसाद चौधरी एवं उप जेलर सुनील कुमार द्विवेदी सहित बन्दीगण उपस्थित रहे।