Main

Today's Paper

Today's Paper

डीआरडीओ द्वारा बनाया गया मॉडल अस्पताल अपने आप में कोरोना मरीजों के लिए रामबाण साबित होगा:अभिषेक प्रकाश 

DRDO-built model hospital will prove to be a panacea for corona patients in itself: Abhishek Prakash

- कोविड-19 रोगियों के बेहतर उपचार और क्षमता वृद्धि को लेकर जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश लगातार कर रहे हैं मॉनिटरिंग

 
 - जिलाधिकारी द्वारा एक्सपर्ट्स के साथ कोविड-19 हॉस्पिटल के संचालन को लेकर डीआरडीओ अफसरों के संग की गई बैठक

- डीआरडीओ कोविड हास्पिटल में निर्बाध ऑक्सीजन सप्लाई के साथ मरीजों के तीमारदारों के रुकने व भोजन की भी रहेगी निश्शुल्क व्यवस्था


अजय सिंह चौहान
लखनऊ,4 मई(तरुणमित्र)।
राजधानी लखनऊ के अवध शिल्पग्राम में तैयार हो चुके डीआरडीओ द्वारा निर्मित कोविड अस्पताल का मंगलवार को जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने स्थलीय भ्रमण किया। इस दौरान सेना के प्रतिनिधियों के अलावा अन्य विभागीय अधिकारियों  के साथ जिलाधिकारी ने उन्होंने मैराथन बैठक की।बैठक के दौरान उन्होंने कोविड अस्पताल में काम करने वाले चिकित्सकों , पैरामेडिकल स्टाफ और दूसरे मैनपावर पर भी चर्चा की,उन्होंने कार्यों व व्यवस्थाओं को अति शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि यहां कोविड हेल्प डेस्क भी स्थापित की जा रही है। इसके साथ ही कोविड रोगी की स्थिति के विषय में भी तीमारदारों को अपडेट उपलब्ध कराने की व्यवस्था भी की जा रही है, ताकि तीमारदारों को किसी प्रकार की असुविधा न हो।
         डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि इस अस्पताल की सबसे बड़ी खासियत यह है, कि यहां चौबीसों घंटे निर्बाध रूप से ऑक्सीजन की सप्लाई राज्य सरकार करवा रही है।इस अस्पताल में दो ऑक्सीजन प्लांट भी बनाये गये हैं। सेना के अधिकारियों से डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ की उत्कृष्ट एवं पूर्ण व्यवस्था के लिए कहा गया है।उन्होंने यह भी बताया कि लखनऊ में बना मॉडल अस्पताल अपने आप में कोरोना के मरीजों के लिए रामबाण साबित होने वाला है।अस्पताल के लिए बिजली का अलग से फीडर , सैनिटाइजेशन की व्यवस्था और साफ सफाई की शानदार व्यवस्था की गई है।उन्होंने यह भी बताया कि अस्पताल में निर्बाध ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था के साथ साथ कोविड रोगियों का इलाज कराने के लिए उनके साथ आने वाले तीमारदारों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए यहां पर तीमारदारों हेतु रुकने,भोजन, स्वच्छ पेयजल, शौचालय इत्यादि की भी अलग से बेहतर व्यवस्था की जा रही है।उक्त के पश्चात जिलाधिकारी हज हाउस पहुँचे,जहां पर एचएएल एवं राज्य सरकार के सहयोग से  स्थापित किए जा रहे हैं।यहां पर उन्होंने कोविड-19 हॉस्पिटल का निरीक्षण किया और अधिकारियों के साथ मैराथन समीक्षा भी की गई। समीक्षा में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि 24 घंटे लगातार कार्य करते हुए 25 बेड के हास्पिटल को शीघ्रातिशीघ्र शुरू कराया जाए। उन्होंने बताया कि हास्पिटल में निर्बाध ऑक्सीजन सप्लाई की समीक्षा की जा रही है,ताकि कोविड रोगियों का तत्काल सही उपचार सुचारू रूप से किया जा सके।

Share this story