Main

Today's Paper

Today's Paper

जनसंपर्क को बनाएं प्रोफेशन

g

किसी कंपनी या चर्चित हस्ती की छवि मार्केट में बनाने वाले पब्लिक रिलेशन प्रोफेशन ने युवाओं को आकर्षित किया है। किसी सेलेब्रिटी के सोशल कॉजेज के लिए दिए गए योगदान के प्रचार से लेकर खराब स्थिति में स्टैंड स्पष्ट करने तक का काम इन्हीं का है। रुचि होने पर आप इस फील्ड में आगे बढ़ सकते हैं।

क्या है योग्यता
पब्लिक रिलेशन फील्ड का मूल कम्यूनिकेशन है। इसलिए इस फील्ड में किसी स्ट्रीम की अनिवार्यता नहीं रखी गई है। पीजी लेवल के पीआर कोर्सेज में प्रवेश के लिए ग्रेजुएशन की अनिवार्यता है। ग्रेजुएशन के लिए 12वीं हों।

क्या हो रुचि
पीआर में सफल कॅरियर बनाने के लिए आपमें इस फील्ड के लिहाज से जरूरी स्किल्स होने चाहिए। आपके कम्यूनिकेशन स्किल्स अच्छे हों, आप लोगों से मिक्स हो पाते हों, मीडिया को बारीकी से फॉलो करते हों आदि। क्या है काम पीआर पर्सन्स का बेसिक काम अपने क्लाइंट्स की बात लोगों के सामने रखना होता है, ताकि उनकी छवि से जुड़ा सकारात्मक संदेश लोगों के बीच जाए और गलतफहमियां पैदा न हों। इसके लिए उन्हें मीडिया पर्सन्स से लगातार संपर्क में रहना पड़ता है और कॉन्फ्रेंसेज भी करनी होती हैं। बेसिक काम संवाद का है।

कई हैं संस्थान
पब्लिकरिलेशन्स की पढ़ाई करने के इच्छुक लोगों के पास कई संस्थानों के विकल्प हैं। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन, माखन लाल राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय, एमआईसीए समेत विभिन्न संस्थानों में पीआर से जुड़े कोर्सेज करवाए जाते हैं। जर्नलिज्म वाले लोग भी अक्सर इस फील्ड में आते हैं क्योंकि वे संवाद में माहिर हो जाते हैं।

अवसरों की भरमार
पब्लिक रिलेशन फील्ड में आने वाले कुशल पेशेवरों के लिए अवसरों की भरमार है। आज तमाम छोटी-बड़ी पीआर कंपनियां ट्रेनीज को हायर करती हैं। एक ट्रेनी के रूप में शुरुआत करके आप कं पनियों में ऊंचे पदों तक जा सकते हैं। विभिन्न सरकारी विभागों में भी पीआरओ के पदों के लिए रिक्तियां निकाली जाती हैं।

Share this story