Main

Today's Paper

Today's Paper

Tarunmitra Banner

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर दो डोज लेने वालों को दिया जायेगा उपहार

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर दो डोज लेने वालों को दिया जायेगा उपहार
क ोवि प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें, संक्रमण समाप्त नहीं हुआ:-प्रसाद
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश के 8,469 कन्टेनमेंट जोन में 3,28,597 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन कन्टेनमेंट जोन में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 15,779 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाइन किये गये लोगों की संख्या 3,540 है। बताया कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश में कोविड नियंत्रण के लिए एक विशेष अभियान चल रहा हैं। जिसके माध्यम से घर-घर जाकर लोगों से संक्रमण की जानकारी ली जा रही है। सर्विलांस अभियान के अन्तर्गत प्रदेश की 24 करोड़ जनसंख्या में से लगभग 19 करोड़ लोगों तक पहुंच कर उनका हालचाल जाना गया है। बताया कि प्रदेश मे अब तक 3,57,54,807 कोविड-19 के टेस्ट किये जा चुके है। प्रदेश के सभी लोगों से अपील है कि कोविड-19 के प्रोटोकाल का अवश्य पालन करें, जैसे साबुन-पानी से नियमित हाथ धोते रहे, मास्क लगाये उसके साथ-साथ जो टीकाकरण की प्रक्रिया चल रही है उसमें बढ़-चढ़कर भाग लें। सहगल ने बताया कि मंगलवार को मुख्यमंत्री ने अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा बैठक में जनपद लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर नगर, वाराणसी, आगरा, मेरठ, गाजियाबाद, गोरखपुर, सहारनपुर, बरेली, झांसी व गौतमबुद्ध नगर में उपचार व्यवस्था को सुदृढ़ किये जाने के निर्देश दिये है। इसके साथ ही इन जिलों में स्वास्थ्य विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग में टीम भेजे जाने व इन जिलों में विशेष सचिव स्तर के अधिकारियों को भेजते हुए कोविड-19 से बचाव व उपचार की व्यवस्था का सतत अनुश्रवण किये जाने के भी निर्देश दिये है।सहगल ने बताया कि युवाओं के लिए प्रदेश में मिशन रोजगार चलाया जा रहा है। प्रदेश सरकार युवाओं को सरकारी नौकरी, रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराने की मुहिम चला रही है।सहगल ने बताया कि  मुख्यमंत्री के समीक्षा बैठक में यह भी निर्देश दिया कि गर्मी के मौसम में आग लगने की दुर्घटनाओं को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त सजगता बरती जाए। आग लगने की दुर्घटना होने पर प्रभावित लोगों को 24 घण्टे में अनुमन्य मुआवजा राशि वितरित किये जायें। सभी जनपदों में अग्निशमन केन्द्रों को पूरी तरह सक्रिय रखने के निर्देश दिये हैं। कहा कि आग लगने की दुर्घटना होने पर प्रभावित लोगों को अविलम्ब राहत व अन्य आवश्यक सामग्री उपलब्ध करायी जाए।अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य  अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में गत एक दिन में कुल 1,79,417 सैम्पल की जांच की गयी।  प्रदेश में अब तक कुल 3,57,54,807 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 5,928 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 27,509 कोरोना के एक्टिव मामले में से 14,637 लोग होम आइसोलेशन में हैं। निजी चिकित्सालयों में 550 मरीज अपना इलाज करा रहे है व शेष मरीज सरकारी चिकित्सालयों में नि:शुल्क इलाज भी करा रहे हैं।बताया कि प्रदेश में अब तक 6,03,495 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,91,401 क्षेत्रों में 5,19,011 टीम दिवस के माध्यम से 3,17,62,662 घरों के 15,40,97,625 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। बताया कि कल प्रदेश में 05 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण करने का बेंचमार्क स्थापित किया गया है। प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयु वालों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब तक 60,47,805 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज व 11,25,255 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गयी हैं। इस प्रकार कुल 71,73,063 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।प्रसाद ने बताया कि कल 07 अप्रैल,को विश्व स्वास्थ्य दिवस पर 3 अप्रैल तक जिन व्यक्तियों ने कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ली है उन्हें लॉटरी के माध्यम से उपहार दिया जायेगा। 1.50 से पौने 02 लाख कोविड टेस्ट करने का लक्ष्य प्रदेश में रखा गया है। कोविड संक्रमण को देखते हुए अत्यधिक सावधान रहना जरूरी है। सभी लोग मास्क पहने फामूर्ले का उपयोग करते हुए हाथ धोेये। मास्क का प्रयोग समाज के प्रति जिम्मेदारी व सामाजिक उत्तरदायित्व का पालन है। इसे जन आंदोलन बनाना होगा।प्रसाद ने बताया कि इस समय विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है इसलिए टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें। अपने हाथ को साबुन-पानी से निरन्तर धोते रहें। कम से कम 30 सेकण्ड तक हाथ धोते रहें, जिससे विषाणु नष्ट हो जायें और अन्य लोगों से दो-गज की दूरी अवश्य बनाएं और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। कहा कि घर के बड़े-बुजुर्गों का टीकाकरण अवश्य कराएं। संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है इसलिए टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें।

Share this story