UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 4:24 AM

पुजारी साधु ने तमंचे से गोली मारकर खुदकुशी कर ली

एटा । राजा का रामपुर कस्बा के पास गांव कनेसर रोड पर एक शिव मंदिर है। इस मंदिर में ऊपर एक कोठरी बनी हुई है। इसमें 60 वर्षीय फक्कड़ बाबा रहते थे। वे मूल रूप से शाहजहांपुर जनपद के रहने वाले थे, लेकिन 20 वर्ष पूर्व इस मंदिर में उन्होंने डेरा जमा लिया था। बुधवार शाम सात बजे बाबा ने तमंचे से अपनी कनपटी पर गोली दाग दी। मौके पर ही उनकी मौत हो गई। फायर की आवाज जब आसपास मौजूद लोगों ने सुनी तो वे मंदिर में पहुंचे, जहां बाबा खून से लथपथ पड़े थे। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी तो तत्काल ही सीओ अलीगंज राघवेंद्र सिंह राठौर व कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया।

बाबा की कमरे की तलाशी ली गई तो एक डायरी मिली, जिसमें दो पेज का सुसाइड नोट लिखा हुआ मिला। बाबा के सुसाइड नोट की भाषा बेहद टूटी-फूटी है, जिसमें उन्होंने करू नाम के व्यक्ति पर आरोप लगाया है कि उसने मुझे बहुत अपमानित किया। इसके अलावा बाबा ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरी न शादी हुई है और न ही कोई बच्चे हैं। सुसाइड नोट में एक महिला का जिक्र है जिसके बारे में बाबा ने लिखा कि यह महिला बहुत लोगों को ठग चुकी है। सुसाइड नोट में बाबा ने अपनी संपत्ति भतीजों को देने के लिए भी कहा है। सीओ ने बताया कि मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है, घटना को लेकर पूरा सच सामने लाया जाएगा। बाबा के परिवार वालों को भी सूचना दी गई है। पुलिस के सामने अब करू नाम के व्यक्ति और महिला को सामने लाने की चुनौती है कि आखिर यह महिला कौन है, जिसकी वजह से बाबा को खुदकुशी करनी पड़ी। आखिर वह कौन सा राज है जो अभी तक सामने नहीं आया है। यह राज खुलने से ही पता चल सकेगा कि बाबा ने खुदकुशी आखिर क्यों की, हालांकि उन्होंने अपमान की बातें लिखीं हैं और महिला पर भी ठगी का आरोप लगाया है।