UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 7:37 PM

युवक की गोली मारकर हत्या, परिजनों ने शव रखकर किया प्रदर्शन

रामनगरी में देवी जागरण के दौरान पंडाल से बाहर एक युवक की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी। बचाने गई दो बहनों को भी गोली मार दी। जिन्हें गम्भीर हाल में ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया है। पुलिस ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की है। बदमाशों का वाहन पुलिस ने कब्जे में लिया है। विरोध में लोगों ने मार्ग जाम किया।
वारदात नगर कोतवाली क्षेत्र के देवकाली नील गोदाम के पास देवी जागरण के दौरान बुधवार रात करीब 10 बजे हुई। बताया जा रहा कि नील गोदाम के पास अशोक यादव के घर के सामने मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की गई है। जहां महाअष्टमी पर देवी जागरण का कार्यक्रम हो रहा था। इसी बीच रात करीब 10 बजे एक्सयूवी कार पर सवार चार बदमाश आए और असलहे से ताबड़तोड़ फायर करते हुए नील गोदाम देवकाली निवासी 32 वर्षीय मंजीत यादवपुत्र कमलेश यादव के सीने में गोली उतार दी।मंजीत की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बचाने के दौरान उसकी दो बहने 14 वर्षीय खुशी यादव और 10 वर्षीय लकी यादव गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गईं हैं। अचानक ताबड़तोड़ फायरिंग सुनकर मौके पर मौजूद लोगों ने एक आरोपी को को पकड़ लिया, जबकि अन्य भागने में कामयाब हो गए। सूचना पर एसपी सिटी विजयपाल सिंह भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि हमलावरों की धरपकड़ के लिए चार टीमें गठित कर दी गई हैं। पकड़े गए एक हमलावर से पूछताछ की जा रही है। मौके पर मिले हमलावरों के वाहन कब्जे में ले लिए गए हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि थाना कोतवाली नगर क्षेत्रान्तर्गत देवकाली चैकी क्षेत्र में फायरिंग की घटना का दुर्गा पूजा पंडाल से किसी भी प्रकार का कोई भी सम्बन्ध नहीं है प्रथम दृष्टया रंजिश का प्रकरण सामने आया है जिसमे पुलिस टीमो द्वारा एक संदिग्ध को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वहीं पोस्टमार्टम के बाद परिजन व ग्रामीणों ने युवक का शव देवकाली तिराहे पर रखकर फतेहगंज-देवकली रोड जाम कर दिया। आरोपियों की गिरफ्तारी व मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। वहीं देर शाम मौके पर पहुंचे डीएम अनुज कुमार झा व एसएसपी शैलेश कुमार पांडे के आश्वासन पर जाम खोला खोला गया। एसएसपी शैलेश पांडे ने कहा कि मामले में विधिक कार्रवाई चल रही है अब तक तीन आरोपी की गिरफ्तारी हुई है जल्द ही सभी आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जायेगी। गिरफ्तारी के लिए 12 टीमें लगाई गई हैं।