UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 7:10 PM

भारी मात्रा में अवैध शराब के साथ आरपीएफ ने तीन तस्करो को किया गिरफ्तार

सासाराम। आरपीएफ सासाराम को गुप्त सूचना मिली कि मालगाड़ी से कुछ तस्कर शराब लोड कर बनारस से लेकर आ रहे हैं तथा गाड़ी अभी दुर्गावती स्टेशन पार कर रही है सूचना प्राप्ति उपरांत सुरक्षा नियंत्रण कक्ष डीडीयू से संपर्क कर मुखबिर द्वारा बताए गए समय व स्टेशन के लोकेशन के अनुसार मालगाड़ी को कनेक्ट किया गया जिसमें मालगाड़ी टीपी/मुगल पावर नंबर 32536 को चिन्हित कर कुम्हउ स्टेशन पर रुकवाने के लिए आग्रह कर अविलंब निरीक्षक सासाराम पी के रावत साथ उप निरीक्षक डी एस राणावत व स्टाफ के साथ कुम्हउ स्टेशन पहुंचे।

जहां समय 22.37बजे डाउन मेन लाइन में उक्त ट्रैन के रुकने उपरांत चेक करने पर वैगन संख्या 22131580367 के अंदर रखा हुआ कुल 08 अदद भरे हुए छोटे-बड़े बोरों तथा इस वैगन में छुपकर बैठे हुए तीन शराब तस्कर को मौके पर ही घेरकर पकड़ा गया। पूछताछ में तीनों ने अपना नाम व पता क्रमशः (1) रजनीश कुमार उम्र 20 वर्ष पुत्र अंगद साव निवासी-काली बिगहा थाना- डेहरी जिला-रोहतास, बिहार (2) राजेश कुमार उम्र 19 वर्ष पुत्र सुधीर महतो, निवासी-पंजाबी मोहल्ला सासाराम,थाना-नगर सासाराम, जिला-रोहतास, बिहार (3) विकास कुमार उम्र 19 वर्ष पुत्र प्रहलाद सिंह ग्राम-खाखड़ा थाना-करहगर, जिला-रोहतास, बिहार बताया।

तथा बताये की इसे चंदौली से लेकर आ रहे हैं। बरामदा बोरों व पकड़े गए तीनो ब्यक्तियों को वहां से लाइन पार कर प्लेटफॉर्म संख्या 1 के हावड़ा छोर तरफ FOB के बगल में लाकर बोरों को खुलवाकर देखने पर उसमें से अंग्रेजी शराब 240 पीस ×500 ml बियर केन, 8 PM(फ्रूटी) 470 पीस×180 ml, इम्पीरियल ब्लू 24 पीस× 375 ml, व 06 पीस×750 ml कुल मूल्य लगभग 90000/- का एवम तीनो के कब्जे से एक-एक अदद मोबाइल फोन बरामद कर जप्त किया गया एवम उक्त पकड़े गए तीनो ब्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया।

बाद टेम्पो की ब्यवस्था कर जप्त शुदा शराब को लदवाकर व पकड़े गए तीनो ब्यक्तियों को साथ लेकर सासाराम वापस होकर अग्रिम कार्यवाही वास्ते GRP सासाराम को सुपुर्द करने की कार्यवाही की जा रही है। छापामारी में प्रदीप कुमार रावत प्रभारी निरीक्षक आरपीएफ सासाराम, उप निरीक्षक डी एस राणावत, प्रधान आरक्षी जी एन राय,प्रधान आरक्षी आर के कन्नौजिया, आरक्षी पंकज कुमार सिंह, ओम प्रकाश सिंह, बंशीलाल, शशि कुमार मौजूद थे।