UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 12:16 PM

अत्याधुनिक बिजली ट्रांसमिशन से 15 नवंबर तक बिजली सप्लाई होने की पूरी उम्मीद

 बलिया । इसके लिए 500 व 160 एमवीए के ट्रांसफार्मर चार्ज करने के लिए भोपाल से टीम आई है। नागपुर गांव में कताई मिल की भूमि पर 475 करोड़ की लागत से 10 हेक्टेयर में बना पूर्वांचल का पहला अत्याधुनिक 400 केवी ट्रांसमिशन उपकेंद्र जुलाई में ही ऊर्जाकृत (चार्ज) कर दिया गया था। यहां से पहले रसड़ा, कासिमाबाद, बलिया के साथ गाजीपुर के उपकेंद्र को भी बिजली दी जाएगी। बाद में मऊ के उपकेंद्र भी शामिल किए जाएंगे। साथ ही रेलवे व कृषि से जुडे़ सब स्टेशन भी शामिल होंगे। इससे लगभग 10 लाख लोगों को सीधा लाभ मिलेगा। गर्मी में निर्बाध बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। इस प्रोजेक्ट की कार्यदायी एजेंसी बीएचईएल है। यह ट्रांसमिशन सिस्टम पूरी तरह आटोमेटिक है। गैस इंसुलेटेड सिस्टम के जरिये लोड को नियंत्रित किया जा सकेगा।

इब्राहिमपट्टी व कसारा पावर ग्रिड से जुड़ने वाले ट्रांसमिशन केंद्र से अगले माह से बिजली आपूर्ति शुरू हो जाएगी। परिवर्तक ट्रांसफार्मर चार्ज होने के बाद चार उपकेंद्रों को बिजली मिलने लगेगी। अन्य की लाइन का काम पूरा होने पर आपूर्ति होगी।