Wednesday, December 8, 2021 at 2:10 PM

 चंदौरा गांव में शांतिपूर्ण माहौल के बीच घुला है तनाव

अयोध्या। खंडासा थाना क्षेत्र के चंदौरा गांव स्थित मंदिर के पास अंडा बेचने का ठेला लगाने को लेकर दो समुदायों के बीच जमकर हुए खूनी संघर्ष के बाद गांव में शांतिपूर्ण माहौल के बीच तनाव खला हुआ है। हालांकि खंडासा थाने के पुलिसकर्मी गांव में रहकर ग्रामीणो की कड़ी निगहबानी कर रहे हैं।
   बताते चलें कि खंडासा थाना क्षेत्र अंतर्गत चंदौरा गांव निवासी इरफान ने गांव स्थित काली माई स्थान के करीब अंडे का ठेला बीते सोमवार की शाम गांव के राम सूरत ने आपत्ति जताई थी और दोनों लोगों में कहासुनी होने लगी थी। मामला इतना तूल पकड़ लिया था कि रात में ही दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चले थे। जिसमें दोनों पक्षों के 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिनमें एक पक्ष के चार घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भर्ती कराया गया था। दोनों पक्षों के लोगों के छप्पर भी मारपीट के दौरान जल गए थे। मामले में खंडासा थाना के प्रभारी निरीक्षक नीरज सिंह ने दोनों पक्षों की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर मारपीट आगजनी एवं दलित उत्पीड़न एक्ट की गंभीर धाराओं में 1 दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। घटना के 2 दिन बीत जाने के बाद भी खंडासा पुलिस मामले में किसी भी पक्ष के किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। हालांकि गांव में दो समुदायों के लोगों के बीच हुए संघर्ष के बाद गांव में माहौल शांतिपूर्ण जरूर है किंतु तनाव जरूर घुला हुआ है।