army

नहीं रुक रही रार! भड़क गई army सेना

नई दिल्ली। पाकिस्तान के विपक्षी गठबंधन ने लोगों ने एक ठोस सरकार का वादा तो कर दिया लेकिन ऐसा लग रहा है कि सरकार और army सेना के बीच मची रार कम नहीं होगी। प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ की भतीजी और नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज के एक बयान से कम से कम तो ऐसा ही लग रहा है। मरियम ने कहा है कि पाकिस्तान का आर्मी चीफ एक ऐसा व्यक्ति होना चाहिए जिसकी प्रतिष्ठा बेदाग हो। इसके बाद मरियम के इस बयान पर army सेना की तरफ से तीखी प्रतिक्रिया भी मिली है।

मरियम बोलीं, आलोचना या संदेह से मुक्त आर्मी चीफ
दरअसल, पाकिस्तान मुस्लिम लीग एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने गुरुवार को कहा कि सेना प्रमुख को एक ऐसा व्यक्ति होना चाहिए जिसकी प्रतिष्ठा बेदाग और जो किसी भी आलोचना या संदेह से मुक्त हो। डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक मरियम ने गुरुवार को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के बाहर एक संवाददाता सम्मेलन में रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ की टिप्पणियों के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए यह बात कही है। आसिफ ने कहा था कि आईएसआई के पूर्व प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद के नाम पर विचार किया जा सकता है।

सेना की तरफ से दी गई प्रतिक्रिया
हाल के दिनों में सिर्फ मरियम ही नहीं पाकिस्तान के कई नेताओं ने आर्मी चीफ के रिटायरमेंट और नए आर्मी चीफ पर अपनी राय रखते हुए टिप्पणियां की हैं। इसके बाद पाक सेना के इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि हाल ही में पेशावर कोर कमांडर के बारे में महत्वपूर्ण वरिष्ठ राजनेताओं की अविवेकपूर्ण टिप्पणियां बहुत अनुचित हैं। इस तरह के बयानों से संस्था और उसके नेतृत्व के सम्मान और मनोबल को ठेस पहुंचती है। यह उम्मीद की जाती है कि देश का वरिष्ठ राजनीतिक नेतृत्व संस्थान के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने से परहेज करे।

See also  भारत में घटी खुशहाल लोगों की संख्या, सात पायदान नीचे खिसक कर 140वें स्थान पर पहुंचा

पहले भी जनरल फैज पर कमेंट कर चुकी हैं मरियम
यह पहली बार नहीं है जब मरियम ने जनरल फैज हमीद पर तल्ख टिप्पणी की है। डॉन ने अपनी रिपोर्ट में यह भी बताया कि फतेह जंग में पिछले हफ्ते एक रैली को संबोधित करते हुए मरियम ने इमरान खान के एक पॉडकास्ट का जिक्र करते हुए जनरल हमीद की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि वे इमरान सरकार की ‘आंख और कान’ थे, जिनके माध्यम से राजनीतिक विरोधियों का गला घोंट दिया गया था।

इमरान के करीबी माने जाते रहे फैज
बता दें कि जनरल फैज हमीद पूर्व पीएम इमरान के करीब माने जाते रहे हैं। उन्होंने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस के प्रमुख के रूप में भी कार्य किया है। इसके बाद उन्हें पेशावर कोर का कमांडर बना दिया गया था। इमरान खान के साथ उनके मधुर संबंधों को देखते हुए तब संभावना जताई गई थी कि उन्हें पाकिस्तान का अगला आर्मी चीफ बनाया जा सकता है।

नवंबर में रिटायर हो रहे बाजवा
बता दें कि पाकिस्तान के मौजूदा आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा नवंबर में रिटायर हो रहे हैं। 61 साल के जनरल बाजवा को 2016 में तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सेना प्रमुख के रूप में नियुक्त किया था। सुप्रीम कोर्ट की ओर से तय किए गए रिटायरमेंट से ठीक पांच महीने पहले सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को जून 2020 में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक्सटेंशन दिया था।