UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 1:11 AM

‘मातृशक्तियां’ प्रदर्शनी का महापौर ने किया उदघाटन

लखनऊ, 13 अक्टूबर। राजधानी में हजरतगंज स्थित चिड़ियाघर में राज्य संग्रहालय लखनऊ द्वारा वार्षिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में मिशन शक्ति के अंतर्गत मूर्ति एवं चित्रकला में मातृशक्तियां विषय पर अस्थाई प्रदर्शनी का आयोजन किया गया जिसका उदघाटन बुधवार को महापौर संयुक्ता भाटिया ने किया।
बता दें कि प्रदर्शनी में संग्रहालय में संग्रहित मूर्ति एवं चित्रकला में निरूपित मातृ शक्तियों के विविध स्वरूपों सरस्वती,सर्वमंगला माहेश्वरी, गजलक्ष्मी या चामुंडा,वैष्णवी,सप्तमातृका,वाराही,आदि स्वरूपों के साथ साथ चित्रों के रूप में राधा कृष्ण,महिषासुर मर्दिनि, राधा के पैर से कांटा निकलते कृष्ण,बिहारी सतसई,बिलाल रागिनी,यशोदा के साथ साथ कृष्ण आदि को दशार्या गया। महापौर ने संग्रहालय में प्रदर्शित सभी चित्रों का अवलोकन किया जिसका विस्तार पूर्वक वर्णन संग्रहालय की सहायक निदेशक डॉ मीनाक्षी खेमका ने किया। इस अवसर पर बोलते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा एवं सशक्तिकरण हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में मिशन शक्ति की शुरूवात पिछले वर्ष नवरात्रि के दिन हुई थी। भारत में संस्कृति के आरम्भ से ही महिलाओं को अत्यंत गरिमामय स्थान प्राप्त रहा है। भारतीय कला के विविध आयाम भी इसकी पुष्टि करते है। भारत मे महिलाओं को देवी और शक्ति का स्वरूप माना गया है और यहां प्रस्तुत प्रदर्शनी में भी मूर्ति एवं चित्रकला में निरूपित देवियों और मातृ शक्तियों की प्रतिमाओं को प्रदर्शित किया गया है। महापौर ने आगे कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण हेतु राज्य और केंद्र सरकार के द्वारा विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही है। महिलाओं को सशक्त करने के लिए सरकार पूरी तरह से दृढ़ संकल्पित है।
इस अवसर पर महापौर संग संग्रहालय के निदेशक डॉ आनंद कुमार सिंह,सहायक निदेशक डॉ मीनाक्षी खेमका,सहायक निदेशक डॉ रेणु द्विवेदी विनय कुमार सिंह ,श्रवण कुमार सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।