UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 9:04 PM

कान्हा की नगरी में जमने लगे ’रामलीलाओं के मंच’

मथुरा। कान्हा की नगरी मे भगवान राम की लीलाओं का रंग जमने लगा है। कोरोना महामारी के चलते दो साल से रामलीला मंचन के आयोजन नहीं हो पा रहे थे। इस बार भी हालांकि कई बडी रामलीला कमेटियां रामलीलाओं का मंचन नहीं कर रही हैं। इस की मुख्य वजह रामलीला मंचन से पहले वाली कई तैयारियों के लिए समय नहीं मिल पाना भी है। जबकि देहात और मथुरा वृंदावन में कुछ स्थानों पर रामलीला का मंचन हो रहा है। अधिकतर परंपरातग आयोजन अभी भी नहीं हो रहे हैं।
कान्हा के गांव गोकुल में रामलीला कमेटी द्वारा लीला मंचन किया जा रहा है। भगवान श्रीकृष्ण की नगर में भगवान राम की बरात धूमधम से निकाली गई। श्रीराम बरात की मुरारी बाबा आश्रम से उप जिलाधिकारी महावन कृष्णानंद तिवारी तथा चेयरमैन गोकुल संजय दीक्षित ने रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों के साथ स्वरूपों की आरती उतार कर किया। राम बरात में भगवान श्री गणेश जी, शंकर जी, राधा कृष्ण, जमीना जी, परशुराम, नरद जी आदि की झांकियां शोभा पा रही थीं। काली अखाडा मथुरा का प्रकाश बैण्ड, खुदाबख्स बाबूलाल की नफरी की धुनों के साथ रामलाल के भजनों पर श्रद्धालु झूम रहे थे। राम बारात वासुदेव दरवाजा, रतनचौक, बीच चौक, परशुराम चौक, नंदचौक, मोदी बाजार, गणेश मंदिर होते हुए निकली। राम बरात का जगह जग पुष्प वर्षा कर गोकुलवासियों ने स्वागत किया।