Monday, December 6, 2021 at 4:55 AM

अलग-अलग क्षेत्रों में छापेमारी कर 362 पीस शराब के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार

बक्सर। जिले के डुमरांव और भरियार ओपी पुलिस ने अलग-अलग क्षेत्रों में छापेमारी कर 362 पीस शराब के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार तस्करों के पास से पुलिस ने दो बाइक भी जब्त किया है। शराब की तस्करी में शामिल अन्य की तलाशी में पुलिस छापेमारी कर रही है। चक्की और ब्रह्मपुर सहित अन्य पंचायतों में पंचायत चुनाव हैं। तस्कर चुनाव के मद्देनजर शराब डंप करने में लगे हुए हैं। जबकि पुलिस शराब माफियाओं के मनोबल को तोड़ने में लगी हुई है।

 

उतरप्रदेश से शराब की खेप लेकर तस्कर बाइक से दियारे के रास्ते कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र के इलाके में लौट रहे थे। तस्करों के आने की गुप्त सूचना चक्की के भरियार ओपी प्रभारी ज्ञान प्रकाश सिंह को मिली। सूचना मिलते ही ओपी प्रभारी दलबल के साथ निकल पड़े। तभी बाइक सवार तस्कर आते दिखे। पुलिस को देखते ही तस्करों ने बाइक की स्पीड बढ़ा दी।

पुलिस ने पीछा कर चक्की के भोलाडेरा मध्य विद्यालय के समीप बाइक सवार दोनों तस्करों को दबोच लिया। गिरफ्तार तस्करों की पहचान कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र के अहिवरन राय के डेरा निवासी ललन सिंह के पुत्र निरंजन कुमार सिंह और संजय सिंह के पुत्र सुमित कुमार सिंह के रुप में हुई। इनके पास से 180 पीस टेट्रा पैक शराब और दो बाइक बरामद की गई है। दोनों के खिलाफ पुलिस ने नामजद एफआईआर दर्ज की है। उन्हें शुक्रवार को जेल भेज दिया गया।

 

अभी दस अक्तूबर को पंचायत चुनाव की हलचल थमी है। तभी डुमरांव के थानाध्यक्ष बिंदेश्वर राम को सूचना मिली कि कसियां में एक बाहरी व्यक्ति शराब का भंडारण कर बिक्री कर रहा है। शराब बिक्री की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष कसियां गांव पहुंचे और एक घर में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पुलिस ने घर में बोरे में छिपाकर रखी 182 बोतल शराब बरामद की।

बरामद सभी बोतल 180 एमएल की था। थानाध्यक्ष ने बताया कि शराब की तस्करी के आरोप में नावानगर प्रखंड के सिकरौल थाना क्षेत्र के सिकरौल लख गांव निवासी ज्योति प्रकाश को गिरफ्तार किया। सिकरौल का ज्योति कसियां में शराब बेचता था। शराब के धंधे में कसियां के दो लोग सहयोग कर रहे थे। जिनकी पहचान कर ली गयी है। शराब बरामदगी के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार तस्कर सहित तीन के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की है।