Main

Today's Paper

Today's Paper

यूपी मेडिकल एण्ड पब्लिक हेल्थ मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन का धरना दूसरे दिन भी जारी

nv

अयोध्या। यूपी सरकार द्वारा लिपिक वर्गीय कर्मियों के भारी पैमाने पर अनियमित किये गए स्थानान्तरण को निरस्त न किये जाने के विरोध में यूपी मेडिकल एण्ड पब्लिक हेल्थ मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन की अयोध्या जिला इकाई ने  दर्शननगर स्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय पर

चल रहा कार्यबहिष्कार मंगलवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। धरने के दूसरे दिन संगठन ने महकमें पर आरोप लगाते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग में तैनात महिला कर्मचारियों को जनपद से 500 किलो मीटर दूर स्थान्तरण किया जाना उनके साथ अन्याय बताया है। वहीं महिला कर्मचारियों ने अपना दुखड़ा सुनाते हुये सरकार से न्याय की गुहार लगाई हैं। यही नहीं जिन कर्मचारी की दो वर्ष पूर्व ही पदौन्नति हुई है उनका भी ट्रांफर कर दिया गया जबकि शासनादेश में साफ कहा गया कि 7 वर्ष से 10 वर्ष तक जो कर्मचारी किसी एक जिले में तैनात है उनका ही स्थान्तरण किया जाना है। इन्ही बिन्दुयो को लेकर संगठन 19 जुलाई को प्रातः 10 बजे से अपराह्न 3 बजे तक अपने कार्यो से विरत रहकर बैठक करेंगे। वहीं 20 से 24 जुलाई तक पूर्ण कार्यबहिष्कार कर मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन सीएमओ को सौंपेगी। जबकि संगठन 26 जुलाई को लखनऊ में स्वास्थ्य सेवा  महानिदेशालय स्वास्थ्य भवन का घेराव किया जाएगा। यदि मांगे नहीं मानी गई तो संगठन लख़नऊ में  सीएम कार्यालय लोकभवन तक पैदल मार्च कर मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया जाएगा। संगठन के जिला मंत्री उमेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि यदि मांगे न मानी गई तो 27 जुलाई से उप्र के परिधिगत के सभी कार्यालयों में कार्यरत लिपिक वर्गीय कर्मचारी अनिशित कालीन कार्यबहिष्कार पर जाने को मजबूर होंगे। बैठक में जिलाध्यक्ष अशोक यादव, मंत्री उमेन्द्र प्रताप सिंह, अजय चतुर्वेदी, सन्तोष वर्मा, वेद प्रकाश सिंह, राजेश मिश्रा, हेम सोनी, रामानुज, सचिन दुबे, महेंद्र पांडेय, अशोक पाठक, राकेश वर्मा, सविता चक्रवती, ममता गुप्ता आदि पदाधिकारी मौजूद रहे।

Share this story