Main

Today's Paper

Today's Paper

Tarunmitra Banner

बहुचर्चित अंगद यादव के हत्याकांड के अभियुक्त की निशानदेही पर आला कत्ल पिस्टल और कारतूस बरामद

मुबारकपुर आजमगढ 

 आपको बताते चलें कि 9-3- 2021 को इंद्रजीत यादव पुत्र राजदेव यादव ने ग्राम बम्हौर थाना मुबारकपुर जनपद आजमगढ़ द्वारा तहरीर दिया गया था कि मेरे चचेरे भाई अंगद यादव पुत्र कपिल देव यादव सिधारी बाजार में स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान पर सेल्समैन ई का कार्य करता था जो दिनांक 8/03/ 2021 समय लगभग 10:00 बजे रात्रि को दुकान बंद करके अपने घर जा रहा था कि रास्ते में निबी बुजुर्ग गांव पार करके सिक्स लेन के बगल में पुरानी रंजिश के कारण पिंटू यादव पुत्र रामकिशन यादव  व शिवानंद चौबे उर्फ सोनू चौबे पुत्र  जय नाथ चौबे ग्राम कारीसाथ थाना जहानागंज जनपद आजमगढ़ ने साजिश के तहत अज्ञात लोगों के साथ मिलकर हत्या कर दिए थे । जिसके क्रम में प्रभारी निरीक्षक द्वारा विवेचना की कार्रवाई करते हुए पर्याप्त साक्ष्य के आधार पर अभियुक्त बृजेश यादव उर्फ ललई पुत्र इंद्रासन यादव निवासी  बलई सागर थाना जहानागंज आजमगढ़ का नाम प्रकाश में आया था ,जो न्यायालय में आत्मसमर्पण किया। जिसको न्यायालय के आदेश पर पुलिस कस्टडी रिमांड पर थानाध्यक्ष मुबारकपुर अखिलेश कुमार मिश्र ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह के  निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक नगर क्षेत्राधिकारी सदर के कुशल निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक अखिलेश कुमार मिश्र ने न्यायालय के आदेशानुसार जिला कारागार आजमगढ़ से अभियुक्त बृजेश यादव उर्फ लाली पुत्र इंद्रासन यादव निवासी बलाई सागर थाना जहानागंज आजमगढ़ को साथ में लेकर उपरोक्त हत्याकांड में प्रयुक्त पिस्टल की बरामदगी के आशय से साथ में लेकर अभियुक्त के गांव बलाई सागर पहुंचे । अभियुक्त द्वारा बताया गया कि जिस पिस्टल से मैंने अंगद यादव को गोली मारी थी वह पिस्टल मैंने अपने घर के पीछे बने भैंस के तबेले के पीछे कोने में छिपा कर रखा हूं, अभियुक्त के बताए  स्थान पर जब पुलिस बल  पहुंची तो अभियुक्त द्वारा बताए हुए स्थान पर एक काली पॉलिथीन में से एक  अदद पिस्टल व दो अदद जिंदा कारतूस 32 बोर का बरामद हुआ। पुलिस अपनी कार्रवाई में जुट गई और अपराधी को जेल भेज दिया गया।

Share this story