Main

Today's Paper

Today's Paper

हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की याद में ईद उल अजहा का त्योहार हकीदत के साथ प्रातः काल नमाज अदा कर मनाया गया।

हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की याद में ईद उल अजहा का त्योहार हकीदत के साथ प्रातः काल नमाज अदा कर मनाया गया।

अतरौलिया आज़मगढ़।

हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की यादगार में ईद-उल-अजहा का त्योहार अकीदत के साथ बुधवार को प्रात: काल नमाज अदा कर मनाया गया।इसके बाद कुर्बानी का दौर शुरु हो गया, जो देर रात तक चलता रहा। यह त्योहार तीन दिनों तक मनाया जाता है। तीनों दिन कुर्बानी कराए जाने का सिलसिला जारी रहता है। कोविड प्रोटोकाल को देखते हुए प्रात: बकरीद की नमाज मुस्लिम समाज के लोगों ने 50-50 की संख्या ईदगाह और मस्जिदों में अदा कर पूरे विश्व से कोरोना महामारी के खात्मे और देश के अमन चैन की दुआ मांगी। कई लोगों ने अपने-अपने घरो में ही नमाज पढ़ी। कोरोना संक्रमण के कारण सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार बकरीद की नमाज मस्जिदों में कोविड गाइडलाइन का पालन कराने के लिए पुलिस और प्रशासन मुस्तैद रही ।जिला प्रशासन द्वारा भी उलेमाओं की बैठक कराकर सार्वजनिक रुप से कुर्बानी नहीं कराए जाने और नमाज अदा किए जाने के प्रति दिशा निर्देश दिए जा चुके है। त्योहार को सकुशल संपन्न कराने के लिए पिछले कुछ दिनों से लगातार पुलिस व प्रशासन कवायद में जुटा रहा।और लगातार शांति समिति की बैठक व 1 दिन पूर्व जिले के सभी संवेदनशील बाजारों में पुलिस व पीएसी ने रूट मार्च भी किया।  अतरौलिया  स्थिति  जामा  मस्जिद  व मदीना  मस्जिद  में  50-50 की संख्या  में  लोगों  ने  मौलाना  अब्दुल  बारी नईमी व मौलाना  अख्तर रजा  की ईमामत में  नमाज  अदा की।शान्ति  पूर्वक  ईदुज्जुहा  की  नमाज़  व कुर्बानी  सम्पन्न  हुई । त्यौहार  को सम्पन्न  कराने  में  थाना  प्रभारी  पंकज  पाण्डेय  पुलिस  कर्मियों  के  साथ  भ्रमण  करते नजर  आये।

Share this story