Main

Today's Paper

Today's Paper

Tarunmitra Banner

बेरोजगारी दूर करने का सजग प्रयास 

आईआईटी कानपुर आत्मनिर्भर भारत के सपने को सच करने का प्रयास कर रहा है। इसके लिए संस्थान के ही एक पूर्व छात्र 1962 बैच के रणजीत सिंह ने 14 करोड़ रुपए दान दिए थे। इसी धन से ग्रामीण कौशल विकास के तहत संस्थान में रोजी शिक्षा केंद्र का एक अलग भवन बनाया गया है।

यहां ग्रामीण महिलाओं व युवाओं को शिक्षा के साथ कंप्यूटरीकृत उपकरण व अत्याधुनिक मशीनों को चलाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी प्रो. संदीप संगल व उन्नत भारत अभियान की रीता सिंह को दी गई है। जल्द ही यहां प्रशिक्षण शुरू हो जाएगा।

रोजी शिक्षा केंद्र में इस तरह का प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिससे घर या गांव में छोटे उद्योग के रूप में काम शुरू हो सके। शुरुआत में फैशन डिजाइनिंग, टेलरिंग, होजरी, मूर्तिकला, शिल्पकला, पाककला के साथ साबुन व तेल बनाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

इस केंद्र में प्रशिक्षण के साथ शॉर्ट टर्म कोर्स भी संचालित किए जाएंगे। यह ग्रामीण इलाकों के लिए होंगे और पूरी तरह निशुल्क होंगे। इसके लिए जल्द प्रारूप तैयार किया जाएगा।

Share this story