Main

Today's Paper

Today's Paper

छात्रों ने ट्विटर को बनाया हथियार किया प्राथमिक शिक्षक भर्ती की मांग

छात्रों ने ट्विटर को बनाया हथियार किया प्राथमिक शिक्षक भर्ती की मांग

(राकेश पाण्डेय)

लखनऊ | प्राथमिक शिक्षक भर्ती के मुद्दे को लेकर आम बेरोजगार प्रशिक्षु के द्वारा विश्व व्यापी ट्विटर अभियान चलाया गया। जिसमें बेरोजगार शिक्षित टेट पास प्रशिक्षु बढ़ चढ़ कर भाग लिये और शिक्षक भर्ती की मांग योगी आदित्यनाथ से किया। शिक्षित बेरोजगार प्रशिक्षुओं ने जॉबलेस वांट यूपीपीआरटी  हैशटैग का प्रयोग करके उत्तर प्रदेश में 1 नम्बर एवं भारत में  ट्रेंड कराया। बेरोजगार छात्रों का मुद्दा विश्व में 39 नम्बर पर बहुत देर तक ट्रेंड करता रहा। जिसमें बेरोजगार प्रशिक्षुओं ने लाखों की संख्या में ट्वीट किये एवं सरकार से भर्ती की मांग किया। आरटीआई से प्राप्त सूचना के अनुसार प्राथमिक विद्यालयों में 173795 पद रिक्त होने के उपरांत सरकार भर्ती नहीं कर रही है। सरकार सुप्रीम कोर्ट में 51112 पद  का हलफनामा भी लगा चुकी है,68500 में 22000 पद अभी भी रिक्त है। इन सभी पदों को जोडकर एक बड़ी प्राथमिक शिक्षक भर्ती कि मांग शिक्षित बेरोजगार प्रशिक्षु सरकार से कर रहे हैं। युवा बेरोजगार के संस्थापक राकेश पाण्डेय उर्फ बंटी पाण्डेय का कहना है कि सरकार द्वारा पिछला सुपर टेट का आयोजन 6 जनवरी 2019 को किया था अब 2 बर्ष बीत जाने के बावजूद भी सुपर टेट का विज्ञापन जारी नहीं हो सका है। जबकि सरकार ने यह दावा किया था कि हर वर्ष सुपर टेट का आयोजन होना सुनिश्चित है। यह सरकार का दावा खोखला साबित हो रहा है। अभ्यर्थी एवं उनके परिवार वाले परेशान हैं लेकिन प्राथमिक शिक्षक भर्ती का कुछ पता नहीं चल रहा है। प्राथमिक शिक्षक भर्ती को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारी भी खामोश है। इसलिए बेरोजगार प्रशिक्षु के गुहार को सुना जाये एवं प्राथमिक शिक्षक भर्ती का विज्ञापन जल्द से जल्द जारी किया जाये।

Share this story