Main

Today's Paper

Today's Paper

उत्तर प्रदेश के  गाजियाबाद व नोएडा में लगा रात्रि कालीन कर्फू 

नई दिल्ली,देशभर में कोरोना के मामलों में रिकॉर्डतोड़ बढ़ोतरी जारी है। यूं तो भारत में कोरोना की रफ्तार थामने के लिए टीकाकरण में तेजी लाई जा रही है, लेकिन इसके बावजूद कोरोना वायरस पर लगाम नहीं कस पा रही। बेकाबू होते हालात को देखते हुए कई राज्यों ने स्थिति के अनुरूप प्रतिबंधों का ऐलान किया है।  उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, पंंजाब और राजस्थान जैसे राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगाए जा रहे हैं तो वहीं छत्तीसगढ़ के कुछ शहरों में पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है। जानें, देश में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए अभी कहां-क्या नियम लागू हैं...
नोएडा और गाजियाबाद में 17 अप्रैल तक सभी स्कूल-कॉलेजों और कोचिंग संस्थानों को भी बंद रखने का आदेश जारी किया गया। कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज और लखनऊ में पहले ही नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया था। अब तक 6 शहरों में लगा नाइट कर्फ्यू।
गाजियाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए पहले की तरह इस बार फिर से प्राइवेट अस्पतालों में बेड रिजर्व करने के आदेश दिए गए हैं। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए हैं कि वह सभी अस्पतालों में समन्वय स्थापित करें। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने कहा कि पूर्व में कोरोना के मरीजों के इलाज में अहम भूमिका रही है। पहले संकट से उबरने में प्राइवेट अस्पतालों ने प्रशासन के साथ मिलकर काम किया। 

गाजियाबाद के जिलाधिकारी डॉ. अजय शंकर पांडेय ने भी गुरुवार को तत्काल प्रभाव से रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक के लिए सात घंटे का नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। जिला प्रशासन की ओर जारी आदेश के अनुसार, कंटेनमेंट और रेड जोन के लिए भी नई व्यवस्थाएं लागू की गई हैं। यहां पार्क, सामुदायिक केंद्र और जिम भी एक बार फिर से बंद कर दिए गए हैं। इसके साथ ही घरों में काम करने के लिए मेड भी नहीं बुलाई जा सकेंगी। हालांकि, अखबार वितरण पर कोई पाबंदी नहीं है। जिलाधिकारी ने जिले में गहन निगरानी के आदेश दिए हैं।

Share this story