Main

Today's Paper

Today's Paper

जिलाधिकारी ने कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा की

जिलाधिकारी ने कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा की

जिलाधिकारी ने कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा की

प्रतापगढ़ (तरुण मित्र),जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को सायंकाल कलेक्ट्रेट के सभागार में कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा की गयी। बैठक में खनन विभाग की समीक्षा में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि खनन से सम्बन्धित यदि कोई भी शिकायत संज्ञान में आये तो सम्बन्धित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी ने राजस्व कार्यो के पिछले वर्ष की विभागवार समीक्षा की। बैठक में जिला प्रभारी बाट माप निरीक्षक से जानकारी प्राप्त की कि अब तक कितनें प्रतिष्ठानों के बाटों को चेक किया गया है तो बताया गया कि कुछ प्रतिष्ठानों के बाटों को चेक किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि पेट्रोल पम्प की ज्यादा शिकायतें प्राप्त हो रही है इसलिये पेट्रोल पम्प की चेकिंग की जाये। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्राम पंचायतों के तालाबों पर हुये अवैध कब्जों को प्राथमिकता के आधार पर हटवाया जाये। बैनामों की संख्या बढ़ायी जाये और जो भी लोग दबंगई कर रहे तो उनको चिन्हित किया जाये और उनके विरूद्ध कार्यवाही की जाये एवं जो बड़े कब्जेदार है उनकी लिस्ट तैयार कर कब्जा मुक्त कराया जाये। चकबन्दी विभाग के पिछले वर्ष की समीक्षा की गयी और इस वर्ष के चयनित ग्रामों के चकबन्दी के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की गयी। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि भूमि विवाद से सम्बन्धित जहां पर ज्यादा शिकायतें प्राप्त हो रही है वहां पर खुली बैठक कराकर उसका समाधान किया जाये और जो भी भूमि विवाद के पुराने प्रकरण है उसकी भी जांच कर आवश्यक कार्यवाही की जाये। भूमि विवाद से सम्बन्धित तहसील सदर में ज्यादा प्रकरण पाये गये। जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि तहसीलों में जितने भी विवादित प्रकरण है उनका अवलोकन कर जल्द से जल्द विवादित प्रकरणों का निपटारा करायें। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो भी कर्मचारी सेवानिवृत्त हो गये हो उनके समस्त देयकों का भुगतान यथाशीघ्र किया जाये और इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही एवं शिथिलता कदापि न बरती जाये। उन्होने कहा कि ड्यिटी के दौरान जिन कर्मचारियों की मृत्यु हो गयी है उनके आश्रितों को प्रस्ताव यथाशीघ्र प्रस्तुत किया जाये जिससे आवश्यक कार्यवाही की जा सके। न्यायालय में विचाराधीन वादों का निस्तारण शीघ्र कराया जाये। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि विद्युत आपूर्ति रोस्टर के अनुसार दी जाये, वर्षा एवं आंधी के दौरान जो भी विद्युत ट्रांसफार्मर खराब हो जाते है एवं तार टूट जाते है उसको जल्द से जल्द दुरूस्त कराकर विद्युत आपूर्ति दी जाये इसमें लापरवाही कदापि न बरती जाये। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन ईट्भट्ठा धारकों के देय राजस्व जमा नही हुये है उनके देय राजस्व को जमा कराया जाय अन्यथा की स्थिं सम्बन्धित ईट भट्ठा धारक विरूद्ध कार्यवाह की जाये। बैठक में परिवहन, आबकारी, खाद्य एवं रसद विभाग, वन विभाग, मण्डी आदि विभागों की समीक्षा की जायेगी एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य राजस्व अधिकारी इन्द्र भूषण वर्मा सहित समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त तहसीलदार एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

Share this story