Main

Today's Paper

Today's Paper

कोविड प्रोटोकॉल व सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना करने वालों पर की जाएगी कड़ी कार्रवाई:जिलाधिकारी

कोविड प्रोटोकॉल व सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना करने वालों पर की जाएगी कड़ी कार्रवाई:जिलाधिकारी


- कोविड नियंत्रण व किये गए अनलॉक के दृष्टिगत जिलाधिकारी व पुलिस आयुक्त द्वारा बुलाई गई एक महत्वपूर्ण बैठक

- पोस्ट कोविड हास्पिटल और इंट्रीग्रेटेड कोविड कन्ट्रोल एन्ड कमाण्ड सेंटर पूर्व की भांति रहेंगे कार्यशील

- बैठक में जिलाधिकारी ने वायरस के इम्पोर्ट को रोकने के लिए रेलवे, बस स्टॉप व एयरपोर्ट पर कड़ी व्यवस्था करने के दिये निर्देश

- बाहर से आने वाले यात्रियों की सौ प्रतिशत की जाए  स्क्रीनिंग,लक्षण वाले व्यक्तियों का कराया जाए एंटीजन व आरटी-पीसीआर टेस्ट

- बस स्टॉप, रेलवे स्टेशन व एयरपोर्ट के स्टाफ का कराया जाए वैक्सिनेशन,सभी व्यवस्थाओं की सीएमओ करेंगे मॉनिटरिंग


लखनऊ,9 जून(तरुणमित्र)।कोविड नियंत्रण व किये गए अनलॉक के दृष्टिगत जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश व पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर द्वारा स्मार्ट सिटी सभागार में एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा बताया कि कोविड संक्रमण के दो बड़े वेव आ चुके है, हमे अब और सतर्क रहना है, और किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना है। ताकि तीसरी लहर यदि आती है। तो हम उस पर पूरी तरह से नियंत्रण रख सके। बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि हमे संक्रमण को इम्पोर्ट होने से रोकना है।राजधानी में संक्रमण निम्न स्तर पर है, परंतु बाहर से आने वाले लोगों के द्वारा संक्रमण फिर से फैल सकता है। जिसके दृष्टिगत कॉमन पॉइंट जैसे एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन व बस स्टॉप पर कड़ी निगरानी की आवश्यकता है। इन सभी पॉइंट से  राजधानी में संक्रमण आ सकता है। इसलिए इन सभी पॉइंट पर विशेष सतर्कता बरती जाए एवं कोविड नियंत्रण के लिए सभी प्रबन्ध किये जाए।उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि एयरपोर्ट, बस स्टॉप व रेलवे स्टेशनों पर जनपद में आने वाले सभी लोगों की शत प्रतिशत स्क्रीनिंग करना सुनिश्चित कराया जाए। प्रत्येक प्लेटफार्म/टर्मिनल पर अनिवार्य रूप से लोगों की थर्मल स्कैनिंग की जाए, अगर लक्षण प्रतीत होते है तो तत्काल उनका एन्टीजन या आरटी-पीसीआर टेस्ट करना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही सबकी प्रतिदिन की डिटेल उपलब्ध कराना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि हाई रिस्क जोन जहां एक्टिव केस अभी भी 600 से अधिक है।वहां से आने वाले यात्रियों टेस्टिंग अनिवार्य रूप से कराना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही उक्त सभी व्यवस्थाओं की निगरानी मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा करना सुनिश्चित किया जाय।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अश्विनी कुमार पांडेय , सीएमओ डॉ संजय भटनागर, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमरपाल सिंह, अपर जिलाधिकारी पूर्वी केपी सिंह, एसपी ग्रामीण हृदेश कुमार,सीएमओ डॉ संजय भटनागर,रेलवे, रोडवेज,परिवहन व  एयरपोर्ट सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे।
     बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि टेस्टिंग टीमों के द्वारा रैंडमली ट्रेसनिंग इंस्टिट्यूट (बैंक व पुलिस ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट) में टेस्टिंग कराना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन व बस स्टॉप के समस्त स्टाफ का वैक्सिनेशन कराना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही रिज़र्व पुलिस लाइन में वर्क साइट वैक्सिनेशन के आधार पर वैक्सिनेशन कराना सुनिश्चित कराया जाए।वहीं पोस्ट कोविड हास्पिटल और इंट्रीग्रेटेड कोविड कन्ट्रोल एन्ड कमाण्ड सेंटर पूर्व की भांति कार्यशील रहेंगे। जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन के लिए बनाई गई ज़िला प्रशासन, एलडीए, नगर निगम व पुलिस विभाग की संयुक्त टीमों द्वारा वृहद स्तर पर अभियान चलाते हुए मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराने के लिए अभियान चलाया जाएगा। बिना मास्क के आवागमन की राजधानी में अनुमति नहीं होगी। अवहेलना करने वालों पर चालानी कार्रवाई करना सुनिश्चित कराया जाए। सभी टीमें अपने अपने क्षेत्रों में कार्यशील रह कर कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन कराना सुनिश्चित कराए।उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन व बस स्टॉप पर मास्किंग व कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन कराने के लिए विभाग द्वारा नोडल अधिकारियों की नियुक्ति हफ़्ते में चौबीसों घंटे रोस्टर के आधार पर की जाए। नियुक्त किये गए नोडल अधिकारी अपने अपने परिसर में कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन कराना सुनिश्चित कराएंगे। अवहेलना होने पर नोडल अधिकारियों की ज़िम्मेदारी तय की जाएगी।वहीं बैठक में जिलाधिकारी ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोविड एप्रोपरिएट बिहेवियर के प्रचार प्रसार के लिए सभी चौराहों के पीए सिस्टम को सक्रिय किया जाए। साथ ही नगर निगम की टीमों के द्वारा जो घर घर जा कर वेस्ट लेती है, उनके द्वारा लोगों को पम्पलेट के द्वारा जागरूक किया जाए।इसके साथ ही उन्होंने  निर्देश दिए गए कि अधिक केस वाले हॉटस्पॉट क्षेत्रों पर लगे सभी सीसीटीवी कैमरे सक्रिय किये जाए, ताकि हॉटस्पॉट क्षेत्रों में कोविड प्रोटोकाल का अनुपालन की मॉनिटरिंग की जा सके। साथ ही निर्देश दिया कि एयरपोर्ट की पार्किंग में 50 सीसीटीवी कैमरे लगवाने की व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जाए।वहीं अनिवार्य रूप से प्रतिदिन सभी बाज़ारों का रात में सेनेटाइज़ेशन करना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही एयरपोर्ट, बस स्टॉप व रेलवे स्टेशन के अंदर विभाग द्वारा और परिसर के बाहर नगर निगम के द्वारा सेनेटाइज़ेशन की व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जाए।तथा पूर्व में गठित की गई 24 सेक्टर मजिस्ट्रेट की टीमें कार्यशील रहेगी तथा अपने अपने क्षेत्रों अपने कार्यदायित्वो का निर्वहन करना सुनिश्चित कराएगी।

Share this story