Main

Today's Paper

Today's Paper

कमिश्नर ने निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति की की समीक्षा

कमिश्नर ने निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति की की समीक्षा
कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने मंडलीय सभागार में निर्माणाधीन प्रमुख 137 परियोजनाओं के प्रगति की शुक्रवार को समीक्षा की। जिसमें 29 कार्य पूर्ण हो चुके हैं, 14 कार्य इसी माह पूर्ण हो जाएंगे। अवशेष कार्य इसी वर्ष जुलाई, सितंबर एवं अक्टूबर माह तक पूर्ण होंगे। मात्र 6-7 कार्य ऐसे हैं जो मार्च, 2022 तक पूर्ण होंगे। कमिश्नर ने परियोजनाओं की कार्यदाई संस्थाएं यथा- एनएचएआई, सीपीडब्ल्यूडी, ब्रिज कारपोरेशन, पीडब्ल्यूडी, यूपी सिडको, राजकीय निर्माण निगम, यूपीपीसीएल, सीएण्डडीएस, आवास विकास, गंगा प्रदूषण निर्माण इकाई जल निगम, स्मार्ट सिटी आदि को निर्देशित किया कि कार्यों में युद्ध स्तर पर कार्य कराएं। सुरक्षा मानकों का हर स्तर पर ध्यान रखें।
                        बैठक में बताया गया कि वृहद वृक्षारोपण के तहत जनपद में 18 लाख पौधे लगेंगे। इसके लिए ग्राम पंचायतवार माइक्रो प्लान बनाकर वृक्षारोपण होगा। गंगा में चलने वाली 92 नावों को सीएनजी में कन्वर्ट किया जा चुका है। 5500 घरों में घरेलू गैस की आपूर्ति की जा रही है।बैठक में बताया गया कि बीएचयू में 100 बेड एमसीएच विंग 45.5 करोड़ रुपए की लागत से पूर्ण हो चुका है। रुद्राक्ष बन गया है। गोदौलिया पार्किंग इसी माह पूर्ण हो जाएगी।सितंबर में टाउन हॉल पार्किंग तैयार हो जाएगी।कुंडो के सुंदरीकरण, संपूर्णानंद स्टेडियम के विकास, दशाश्वमेध घाट के विकास, खिड़कियां घाट परियोजना, पुरानी काशी के वार्डों के विकास कार्य, घाटों पर हेरिटेज साइनेज कार्य, शहर के तालाबों के सुंदरीकरण कार्य, ट्रांस वरुणा कार्य, आईपीडीएस के कार्य, शहर के चौराहों के सौंदर्यीकरण, विभिन्न वाहन पार्किंग कार्यो, गंगा प्रदूषण नियंत्रण के विभिन्न कार्य, पर्यटन विकास के विभिन्न कार्य, जनपद में निर्माणाधीन विभिन्न पुलों, आरओबी, सड़कों के चौड़ीकरण, रिंग रोड निर्माण कार्य आदि की बिंदुवार समीक्षा हुई।कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने सुझाव दिया कि नगर निगम शहर की पार्किंग स्थलों पर एक ऐप तैयार कर जन सामान्य हेतु लांच करें।   कार्यों को पूर्ण करने हेतु बार-बार समय अवधि बढ़ाने पर कमिश्नर ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए चीफ इंजीनियर के विरुद्ध कार्यवाही हेतु शासन को लिखने का निर्देश दिया।बैठक में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, वाराणसी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष ईशा दुहन, नगर आयुक्त गौरांग राठी सहित विभिन्न विभागों एवं कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी एवं अभियंता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Share this story