Weather Today: 5 दिन भीषण गर्मी के नहीं हैं आसार

नई दिल्ली। दक्षिण-पश्चिम मानसून, दक्षिण-पश्चिम अरब सागर के कुछ हिस्सों, दक्षिण-पूर्व अरब सागर के कुछ और हिस्सों, मालदीव, कोमोरिन क्षेत्र और बंगाल की दक्षिण खाड़ी में आगे बढ़ गया है। साथ ही केरल में मानसून के आगे बढ़ने को लेकर भी नजर रखी जा रही है। एक और राहत की खबर है कि भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, 5 दिनों के दौरान देश में कहीं भी लू की स्थिति तैयार होने की संभावना नहीं है।

48 घंटों के दौरान दक्षिण अरब सागर के कुछ और हिस्सों, पूरे मालदीव, लक्षद्वीप के आसपास के क्षेत्रों और कोमोरिन क्षेत्र के कुछ और हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परस्थितियां अनुकूल हैं।

IMD की तरफ से गुरुवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, अगले पांच दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत में हल्की या मध्यम बारिश के आसार हैं। वहीं, इस दौरान बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल और सिक्किम में तेज हवाओं के साथ छिटपुट बारिश हो सकती है। असम-मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में आज भारी बारिश हो सकती है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को तापमान के करीब 37 डग्रिी सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि आसमान साफ रहेगा, इस दौरान बारिश होने का कोई आसार नहीं है। मौसम विभाग ने कहा, ”दिल्ली में अगले सात दिनों तक लू का प्रकोप नहीं रहेगा।’ उन्होंने कहा कि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है।

विभाग के अनुसार, उत्तराखंड, पंजाब, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान में 28 और 29 मई को बारिश हो सकती है। वहीं, हिमाचल प्रदेश में आज ओलावृष्टि के आसार हैं।

See also  ज्ञानवापी में मुस्लिमों के Entrance पर रोक लगे

उत्तराखंड के कई जिलों में यलो अलर्ट
मौसम विभाग ने शुक्रवार को राज्य के कुमाऊं मंडल के पर्वतीय क्षेत्र में गर्जना के साथ ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली, झोंकेदार हवाएं चलने को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है। उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली आदि जिलों में भी दोपहर बाद या शाम के समय हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा। मगर पहाड़ी जिलों में अभी बारिश का क्रम जारी रहेगा। 28 को उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ जिलों के विशेषकर ऊंचाई वाले स्थानों में कहीं कहीं शाम के समय बहुत हल्की से हल्की बारिश, गर्जना के साथ बारिश की संभावना जताई गई है। 29 को भी ऊपरी इलाकों में बारिश का क्रम दोपहर या शाम के बाद रहेगा।

शुक्रवार को पांच पर्वतीय जिलों को येलो अलर्ट पर रखा गया है। यहां बारिश के अलावा 30 से 40 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को खराब मौसम के चलते जान माल की क्षति की संभावना जताते हुए यात्रियों से मौसम बिगड़ने की सूरत में सुरक्षित स्थानों पर रहने का सुझाव दिया है। बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमनोत्री, गंगोत्री व हेमकुंड साहिब में 30 मई तक हर दिन बारिश का रहने का अनुमान है।

मौसम विभाग ने दून में अगले कुछ दिनों में तापमान में बढोत्तरी का अनुमान लगाया है। मौसम विभाग के अनुसार दून में आगामी दिनों में मौसम शुष्क रहने की संभावना है। लिहाजा धूप में तेजी रहेगी और तापमान बढ़ेगा। दून में गुरुवार को अधिकतम तापमान 33.2 डिग्री सेल्सियस रहा। जो सामान्य से तीन कम था। वहीं न्यूनतम तापमान 20.2 डिग्री सेल्सियस रहा।