UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 9:15 PM

किस उम्र के लोगों को कितनी नींद लेनी चाहिए ?

नई दिल्ली: डिजिटलाइजेशन के इस दौर में जिंदगी काफी फास्ट हो गई है. भागदौड़ भरी जिंदगी में वर्किंग प्रोफेशनल्स और पेरेंट्स के लिए पर्याप्त नींद ले पाना किसी टास्क से कम नहीं है. नींद की कमी से न केवल शरीर में सुस्ती रहती है, बल्कि कई बीमारियों का भी खतरा रहता है. नींद पूरी होने से शरीर में एनर्जी आती है, दिमाग भी एक्टिव रहता है.

अगर आपको भी नींद न आने की समस्या है और आप ये जानना चाहते हैं कि कितनी नींद लेना आपके लिए जरूरी है, तो एक खास तकनीक इसमें आपकी मदद करेगी. ये एक हैंडी स्लीप कैलकुलेटर हैं, जो आपको बताएगा कि किस उम्र के लोगों के लिए कितनी नींद जरूरी है.

इस कैलकुलेटर में जैसे ही आप यह फीड करेंगे कि आपको सुबह कितने बजे उठना है, ये आपको बताएगा कि आपको कितने घंटे की नींद लेनी चाहिए.

ये स्लीप कैलकुलेटर इंटीरियर विशेषज्ञ हिलेरीज की टीम ने बनाया है. ये ऐप आपके शरीर की 90 मिनट नैचुरल स्लीप साइकल के साथ आपके सोने के समय का निर्धारण करेगा.

कई बार ऐसा होता है कि सुबह 90 मिनट तक अलार्म बजने के बाद आप उठते हैं तो काफी सुस्त फील करते हैं और बिस्तर छोड़ने का भी मन नहीं करता, लेकिन अगर आप पर्याप्त नींद ले लें तो आप सुबह उठते समय हल्का फील करेंगे.

इस कैलकुलेटर में आप सुबह जगने का समय फीड करेंगे तो यह सोने के सही समय की जानकारी देगा. जैसे अगर आप सुबह 7 बजे अपनी सुबह की शुरुआत करना चाहते हैं तो फिर आपको रात में 9.46, 11.16 या फिर अगर आप देर रात तक जगने वाले हैं तो 12.46 पर सोना होगा. हिलेरीज ​की तारा हॉल ने बताया कि अच्छी नींद के लिए समय पर सोना और जागना दोनों जरूरी है.

शरीर की प्राकृतिक क्रियाओं के हिसाब से कैलकुलेटर के नियम बनाए गए हैं. कैलकुलेटर यह बताएगा कि आपके जगने और सोने का सही समय क्या होना चाहिए.

हाल में किए गए एक ऑनलाइन सर्वे के मुताबिक, ब्रिटेन में आधे से ज्यादा लोग 8-9 घंटे की नींद नहीं ले पा रहे. इनमें से पुरुषों की संख्या ज्यादा है. सर्वे के मुताबिक ब्रिटेन के 56 प्रतिशत पुरुष 8-9 घंटे की पर्याप्त नींद नहीं ले पाते. वहीं 53 प्रतिशत महिलाएं भी नींद पूरी नहीं कर पातीं. नींद पूरी न होने से आप सुस्त रहते हैं और ये सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक है.

एडन गेट के सीईओ टायलर वुडवर्ड मीडिया को बताते हैं कि अच्छी नींद लेना कई कारणों से जरूरी हो जाता है. अच्छी नींद लेने से आपका दिमाग स्वस्थ रहता है और दिन में काम करते समय आप ज्यादा फोकस कर सकते हैं.

ये आपके सामान्य स्वास्थ्य पर भी सकारात्मक असर डालता है. पर्याप्त नींद लेने से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी अच्छी रहती है. वुडवर्ड बताते हैं कि अच्छी नींद से आपका दिमाग और शरीर दोनों हल्का और स्वस्थ फील करते हैं.

नींद के लिए वुडवर्ड कैफीन के इस्तेमाल पर रोक लगाने की भी सलाह देते हैं. इसके अलावा उन्होंने बताया कि पूरे दिन एक्टिव रहें और कम से कम 10 मिनट एक्सरसाइज जरूर करें, ये आपको फायदा पहुंचाएगा.

नेशनल स्लीप फाउंडेशन के मुताबिक, नवजात बच्चे (0-3 महीने) को 14 से 17 घंटे की नींद लेनी चाहिए. इसके बाद 4 से 11 महीने की उम्र के बच्चे को करीब 12 से 15 घंटे की नींद लेने की जरूरत होती है. वहीं 1 से 2 साल के बच्चे के लिए 11 से 14 घंटी की नींद की सलाह दी गई है. इसके साथ ही 3 से 5 साल की उम्र के बच्चों को 10 से 13 घंटों की नींद लेनी चाहिए.

इस वजह से तेजी से बढ़ सकती है आर्थराइटिस की बीमारी, तुरंत बदल दें ये आदत

इसके बाद 6 से 13 साल तक के बच्चों के लिए 9 से 11 घंटे तक नींद और 14 से 17 साल के बच्चों के लिए 8-10 घंटे नींद लेने की सलाह दी गई है. 18 से 25 साल के युवाओं के लिए 7 से 9 घंटे की नींद जरूरी है. वहीं 26 से 64 साल के लोगों के लिए 7 से 9 घंटे की नींद जरूरी होती है. 65 साल से ऊपर के लोगों को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए.