Monday, December 6, 2021 at 5:26 AM

जहां निष्ठा होती है, वहां सफलता भी होती है: सीएम योगी

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि जहां नेतृत्व के प्रति निष्ठा होती है, वहां सफलता भी सुनिश्चित होती है. मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की कथा से भी यही संदेश मिलता है. आज नए भारत का नया उत्तर प्रदेश प्रभु श्रीराम के आदर्शों का अनुसरण कर तेजी से आगे बढ़ रहा है. हर एक क्षेत्र में विकास की बुलंदियों को छू रहा है.

सीएम योगी शुक्रवार शाम श्री मानसरोवर मंदिर रामलीला समिति की तरफ से आयोजित प्रभु श्रीराम के राजतिलक समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि जब तक घर-घर में प्रभु श्रीराम की कथा का गान होगा, नेतृत्व के प्रति आमजनमानस एकजुट होगा तो दुनिया में कोई भी भारत का बाल बांका नहीं कर पाएगा.

त्रिलोक विजयी रावण, जिससे इंद्र भी थर्राते थे, को श्रीराम ने वानर, भालू और वनवासी समाज की सेना को साथ लेकर परास्त किया. इस सेना ने श्रीराम के नेतृत्व के प्रति अटूट निष्ठा के साथ सभी आदेशों का अक्षरशः पालन कर सफलता का नया आदर्श प्रस्तुत किया. यह प्रमाण है कि सात्विक नेतृत्व में बड़ी से बड़ी ताकत को पराजित किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि आमजनमानस में नेतृत्व की नीति में कोई खोट नजर नहीं आती है तो सफलता अवश्य मिलती है. अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण इसी का द्योतक है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम जिसकी पूजा करते हैं, उसके अनुरूप नहीं व्यवहार नहीं कर सकते तो पूजा सफल नहीं हो सकती है. हमें व्यावहारिक जीवन में प्रभु श्रीराम के आदर्शों को अपनाने की आवश्यकता है. भाई-भाई के मतभेद की स्थिति हो, पिता-पुत्र, माता-पुत्र या पति-पत्नी के संबंध हों, या शत्रु-मित्र की पहचान करने की बात. हर स्थिति में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के आदर्श का स्मरण हमारा मार्गदर्शन करता है, नई ऊर्जा से ओतप्रोत करता है.