UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 6:07 AM

दो बच्चों के साथ महिला ने 19वीं मंजिल से कूदी

मॉस्को: रूस में डिप्रेशन की शिकार एक महिला ने ऐसा खौफनाक कदम उठाया कि सुनने वालों की रूह कांप गई. महिला ने अपने दो बच्चों को बाहों में भरा और बिल्डिंग से छलांग लगा दी. इस दर्दनाक हादसे में तीनों की मौत हो गई है. मृतक का पति सैन्य अधिकारी है और इस खबर के बाद से सदमे में है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. उसने हत्या की आशंका से भी इनकार नहीं किया है.

महिला प्रसवोत्तर अवसाद से जूझ रही थी. कभी-कभी महिलाओं को बच्चे के जन्म के बाद यह समस्या हो जाती है. महिला ने अपनी पड़ोसी को भी इस बारे में बताया था. हालांकि, किसी ने नहीं सोचा था कि वो इतना खतरनाक कदम उठा लेगी. ओल्गा जारकोवा अपने परिवार के साथ मॉस्को की एक इमारत की 19 वीं मंजिल पर रहती थीं. यहीं से उन्होंने छलांग लगा दी.

190 फीट ऊंचाई से नीचे गिरते ही ओल्गा जारकोवा और उनके तीन साल के दोनों बच्चों की मौत हो गई. ओल्गा ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है. जिसमें उन्होंने लिखा है कि वो अपने बच्चों को इस जालिम दुनिया में अकेले नहीं छोड़ना चाहतीं, इसलिए उन्हें भी अपने साथ ले जा रही हैं. महिला ने कुछ वक्त पहले अपनी पड़ोसी को बताया था कि प्रसवोत्तर अवसाद से पीड़ित है और खुद को अकेला, थका हुआ महसूस करती है. माना जा रहा है कि शायद इसी वजह से उसने आत्महत्या कर ली.

इस दर्दनाक हादसे के बाद से मृतका का पति सदमे में है. पुलिस ने बताया कि ओल्गा जारकोवा ने अपने दोनों बच्चों को गोदी में उठाया और 19वीं मंजिल पर स्थित अपने फ्लैट से छलांग लगा दी. करीब 190 फीट नीचे गिरते ही तीनों ने दम तोड़ दिया. मामले की जांच जारी है, फिलहाल ज्यादा कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. मृतका के सैन्य अधिकारी पति का बयान लेना अभी बाकी है.