कार्ति चिदंबरम पर कसा शिकंजा, 54 करोड़ की संपत्तियां जब्त

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ने आईएनएक्स मीडिया मामले में कार्ति चिदंबरम के स्वामित्व वाली 54 करोड़ मूल्य की संपत्तियां जब्त कर ली हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने नई दिल्ली के जोर बाग, ऊंटी, कोडिकानल बंग्ला, यूके स्थित आवास और बर्सिलोना की संपत्ति को सीज किया है।

आईएनएक्स मीडिया कंपनी से जुड़ा यह मामला मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा हुआ है। शीना बोरा हत्याकांड की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी थी। इस मामले में कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की 305 करोड़ रुपये की मंजूरी के संबंध में कथित भूमिका के लिए जांच एजेंसियों के दायरे में हैं।

सीबीआई ने 2007 में 305 करोड़ रुपये की विदेशी निधि हासिल करने के लिए आईएनएक्स मीडिया को एफआईपीबी से मिली मंजूरी में कथित अनियमितता की शिकायत पाई। जिसके बाद पिछले साल 15 मई को एफआईआर दर्ज की थी। यूपीए-1 सरकार के दौरान जब यह मंजूरी दी गई, तो उस वक्त चिदंबरम वित्त मंत्री थे।

इस मामले में चिदंबरम के बेटे कार्ति का भी नाम सामने आया है। सीबीआई का कहना है कि कार्ति ने आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड से मंजूरी दिलाने के लिये 10 लाख डॉलर की रिश्वत ली। कार्ति पर यह भी आरोप है कि उन्होंने इंद्राणी की कंपनी के खिलाफ टैक्स का एक मामला खत्म कराने के लिए अपने पिता के रुतबे का इस्तेमाल किया था।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper