कुख्यात अपराधी सुभाष ,आलोक व अभिषेक ने मुज़फ़्फ़रपुर में किया था सोना लूट , 26.5 किलो बरामद

सभी अपराधियों की हो चुकी है पहचान ,स्पीडी ट्रायल चलाकर दिलाया जाएगा सजा-एडीजी

>> पूर्णिया में तीन एके 47 रायफल व 1600 कारतूस बरामद ,भोजपुर के मुकेश सिंह एवं संतोष सिंह का आया नाम

>> यूबी लॉन्चर का मिला पार्टस, बरामद हथियार मनवार आर्मी का, पिछले साल पटना में आया था 4 एके 47

पटना ( अ सं ) । बिहार पुलिस के हौसलें बुलंद है और इन दिनों एक से बढ़कर कामयाबी मिल रही हैं ।मुजफ्फरपुर में मुथुत फाइनेंस कंपनी ने लूट गयी सोना को अंतर्जिला गिरोह के कुख्यात अपराधी सुभाष कुमार झा(दरभंगा)  ,आलोक कुमार (बेगुसराय) व अभिषेक कुमार (वैशाली) सहित 6 ने अंजाम दिया था।
      एजीजी(मुख्यालय ) कुंदन कृष्णन ने मामले का खुलासा करते हुये बताया की लूट गये 30 किलो सोने के आभूषण और 2 लाख नगद रूपये में से पुलिस ने 26.5 किलोग्राम सोना बरामद कर लिया हैं ।  एडीजी के अनुसार कार्रवाई में जुटी जिले की एसआईटी ,एसटीएफ एवं सीआईडी की टीम ने सबसे पहले सुभाष कुमार झा को दरभंगा के दक्षिण सराय से डेढ़ किलो सोना के साथ गिरफ्तार किया ।फिर इसके निशानदेही पर पुलिस ने बेगुसराय के सोनवर्षा से आलोक कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो सबकुछ स्पष्ट हो गया ।इसके बाद पुलिस टीम ने वैशाली के महुआ स्थित अभिषेक कुमार को सुटकेस में रखें 25 किलो सोना के साथ गिरफ्तार कर लिया ।
   एडीजी ने बताया की इस लूट की घटना को 6 अपराधियों ने अंजाम दिया था इसमें तीन की गिरफ्तारी हो चुकी है ,सभी का पहचान हो चुकी हैं ।जल्द ही गिरफ्तार कर लिये जाएंगे । गिरफ्तार अपराधियों को स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलाने का काम पुलिस करेगी ।

पूर्णिया में मनवार आर्मी का मिला 3 एके 47 और1600 कारतूस, भोजपुर का मुकेश और संतोष का आया नाम

    एडीजी कुंदन कृष्णन ने बताया की पूर्णिया में पुलिस  ने बीते 7 फरवरी को वाहन चेकिंग के दौरान 600 कारतूस बरामद किया ।इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार अपराधियों से सख्ती से पूछताछ हुई तो कई रहस्य सामने आया। पुनः सफारी गाड़ी को खोलकर तलाशी ली गयी तो तीन एके 47 और 1000 और कारतूस बरामद किया गया । वही यूबी लॉंचर का पार्टस भी बरामद किया गया हैं । बरामद एके 47 मनवार आर्मी का बताया जा रहा हैं । यह हथियार नक्सलियों और अपराधियों को देने के लिये लाया जा रहा था।
एजीजी ने बताया की गिरफ्तार व्यक्ति ,हथियार तस्कर है।इसके पीछे भोजपुर जिले का मुकेश सिंह एवं संतोष सिंह का नाम सामने आया है।जिसके गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम छापेमारी कर रही हैं ।केन्द्रीय एजेंसी एनआईए भी मामले की छानबीन कर रही हैं । भोजपुर के संतोष सिंह सिंह के पास से पटना पुलिस ने हाल ही में 50 कारतूस, पिस्टल का बरामद किया था। नागालैंड के दीमापुर से फर्जी लाइसेंस बनाकर कारतूस की खरीदारी कर तस्करी किया जाता रहा हैं ।
=>