अक्षयपात्र की थाली 300 करोड के पार, प्रधानमंत्री अपने हाथों से बच्चों को खिलाया खाना

-वृंदावन के कुभ से लेकर गाय तक रहे प्रधानमंत्री के भाषण का हिस्सा

मथुरा। अक्षयपात्र संस्था 300 करोड के पार पहुंच गई है। 300 करोडवीं थाली परोसे जाने के अवसर पर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वृंदावन में अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम में मौजूद रहे। वंचित वर्ग के स्कूली बच्चों को खाना खिलाया।
इससे पहले उन्हें 300 करोड वीं थाली की पट्टिका का अनावरण किया। प्रधानमंत्र्ाी नरेंद्र मोदी ने कहाकि ये प्रयास मैं से हम तक की यात्रा का सबसे अच्छा उदाहरण हैं, मैं जब हम बन जाता है तो हम खुद से ऊपर उठकर समाज के बारे में सोचते हैं, मैं जब हम बन जाता है तो सोच का दायरा बढ़ जाता है। हम का विचार अपने देश को, अपनी संस्कृति को व्यक्ति से ज्यादा महत्वपूर्ण बनाता है। हम सिर्फ पोषण के अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इस समय अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन परोसना चुनौती थी। इस काम में अक्षयपात्र जुटा हुआ है। देश का बचपन कमजोर होगा, तो विकास की गति धीमी हो जाएगी। अब बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले, ये सुनिश्चित किया जा रहा है। इस काम में अक्षय पात्र से जुड़े आप सभी लोग, खाना बनाने वालों से लेकर खाना पहुंचाने और परोसने वाले तक के काम में जुटे सभी व्यक्ति देश की मदद कर रहे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मिशन इंद्रधनुष के तहत देश के हर बच्चे तक पहुंचने का लक्ष्य लिया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक अंतर्राष्ट्रीय रिपोर्ट आई है, जिसमें संभावना जताई गई कि सिर्फ स्वच्छ भारत मिशन से, करीब 3 लाख लोगों का जीवन बच सकता है

अभिभावकों के साथ बच्चों को भी संबोधित किया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल पंडाल में मौजूद अभिभावकों के साथ बच्चों को भी संबोधित किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के लोग गौ माता के दूध का कर्ज नहीं चुका सकते। गाय हमारी संस्कृति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। गाय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का भी महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। उन्होंने कहा कि देश में पशुपालकों की मदद के लिए अब बैंकों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। अब बैंकों से तीन लाख रुपये तक का ऋण मिल सकता है। इससे हमारे तमाम पशुपालकों को लाभ मिलने वाला है।

कुभ मेला का भी किया जिक्र
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान कुभ मेला की सफलता का भी जिक्र किया। आम तौर पर कुंभ मेला में नागा बाबा की चर्चा होती है, पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कुम्भ की स्वच्छता को लेकर रिपोर्ट की है। उन्होंने कहा कि यदि हम सिर्फ पोषण के अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे।

झुंझनू से राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरूआत की
इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झूंझनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। पिछले वर्ष सितंबर के महीने को पोषण के लिए ही समर्पित किया गया था। अब सुनिश्चित किया जा रहा है कि बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले। इस काम में अक्षय पात्र से जुड़े आप सभी लोग, खाना बनाने वालों से लेकर खाना पहुंचाने और परोसने वाले तक के काम में जुटे सभी व्यक्ति देश की मदद कर रहे हैं।

बाहुबली की टीम भी रही मौजूद
दास ने बताया कि राजामौली हमारे शुभचिंतकों में से एक हैं। वह कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पा रहे हैं, लेकिन बाहुबली फिल्म के कुछ सदस्य कार्यक्रम के दौरान मौजूद। गौरतलब है कि श्बाहुबलीश् फिल्म के निर्देशक एसएस राजामौली अक्षय पात्र फाउंडेशन के गुडविल एम्बेसडर हैं।

=>