नेता ने स्टूडेंट को किया प्रेग्नेंट, खबर करने में पत्रकार को किडनैप करने का प्रयास


नई दिल्ली। केबल भारत में ही पत्रकारों को जोखिम नही जहां भी भ्रष्ट आचरण के लोग है वही पत्रकार संकट में है। यह घटना केन्या की है पत्रकार का जीवन जोखिम से भरा रहता ही है, लेकिन यदि उसकी नजर किसी ऐसी खबर पर हो जिसका जुड़ाव सीधे तौर पर नेताओं से हो तो जोखिम और भी बढ़ जाता है। केन्या में पत्रकार बराक ओडोर को ऐसी ही एक खबर की वजह से अगवा करने का प्रयास किया गया। बराक ने चलती गाड़ी से कूदकर किसी तरह अपनी जान बचाई। इस घटना ने पूरे केन्या में खलबली मचा दी है।

बराक केन्या के किसुमु शहर में नेशन न्यूजपेपर के साथ काम करते हैं। उन्हें एक स्थानीय नेता और यूनिवर्सिटी स्टूडेंट के बीच प्रेम संबंधों के बारे में पता चला था। जब वो इस प्रेम कहानी की तह तक पहुंचे तो एक अलग ही कहानी निकलकर सामने आई। राजनेता की प्रेमिका शेरोन ओटियेनो ने बराक को बताया कि वो प्रेग्नेंट है और उस पर गर्भपात कराने के लिए दबाव डाला जा रहा है। बराक ने इस संबंध में राजनेता से मिलने के लिए समय मांगा, जिस पर नेता के खास व्यक्ति ने उन्हें शेरोन के साथ होमा-बे काउंटी मिलने के लिए बुलाया। जब वो निर्धारित जगह पर पहुंचे तो उनसे मिगोरी काउंटी के रोंगो शहर आने के लिए कहा गया।

बराक और शेरोन वहां करीब 40 मिनट तक राजनेता का इंतजार करते रहे, लेकिन वो नहीं आया। कुछ देर बाद नेता का खास व्यक्ति वहां पहुंचा और यह कहकर उन्हें अपने साथ ले गया कि ये जगह मुलाकात के लिए सही नहीं है। बराक और शेरोन के गाड़ी में बैठते ही ड्राइवर तेजी से गाड़ी भगाने लगा, इस बीच दो और व्यक्ति भी गाड़ी में सवार हो गए और बराक और शेरोन से उनके मोबाइल फोन छीन लिए गए।

पत्रकार बराक ओडोर को अहसास हो गया था कि उन्हें अगवा किया जा चुका है, इसलिए उन्होंने खामोश बैठने के बजाए संघर्ष किया। वो किसी तरह कार का दरवाजा खोलकर चलती गाड़ी से कूद गए, और घायल अवस्था में नजदीकी गांव पहुंचे, जहां से स्थानीय लोग उन्हें कडेल पुलिस स्टेशन ले गए। बराक को इलाज के लिए किसुमु के आगा खान अस्पताल में भर्ती किया गया है।

मीडिया संगठनों ने बराक ओडोर पर हुए हमले की निंदा करते हुए पुलिस से आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है। वहीं, पुलिस ने कहा है कि इस संबंध में कुछ अहम सबूत उसके हाथ लगे हैं और जल्द ही आरोपियों पर कार्रवाई होगी।

वहीं, पत्रकार बराक ओडोर के साथ अगवा की गई स्टूडेंट शेरोन ओटियेनो की लाश मिलने से मामला और भी गंभीर हो गया है। पुलिस ने होमा-बे काउंटी से बुधवार को उसकी लाश बरामद की। मृतका रोंगो यूनिवर्सिटी की सेकंड ईयर की मेडिकल स्टूडेंट थी। रिपोर्ट के मुताबिक, शेरोन सात महीने की गर्भवती थी।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper