Friday, December 3, 2021 at 6:15 AM

मनरेगा में बिना कार्य कराए ही 1.33 करोड़ रुपये का भुगतान

गोंडा । मामला पंडरीकृपाल ब्लाक की ग्राम पंचायतों का है। वित्तीय वर्ष 2017-18 व 2018-19 में मनरेगा के तहत बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है। यहां एक ही गांव में डबल परियोजनाओं पर बिना कार्य ही भुगतान कर दिया गया। संपर्क मार्ग पटाई, पुलिया निर्माण व तालाब सुंदरीकरण की 20 परियोजना पर 1.33 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। जिले के एक ही व्यक्ति ने शासन में मनरेगा के तहत हुई गड़बड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी। अपर आयुक्त मनरेगा योगेश कुमार ने अफसरों से रिपोर्ट तलब की है। संयुक्त विकास आयुक्त देवीपाटन मंडल राजेंद्र प्रसाद ने बीडीओ पंडरीकृपाल से परियोजनाओं के भुगतान संबंधी पत्रावली तलब की है। उपायुक्त स्वत : रोजगार/ बीडीओ पंडरीकृपाल एनबी सविता ने बताया कि उच्चाधिकारियों को आवश्यक अभिलेख व सूचनाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

ग्राम पंचायत बैसियाचैन में मुंडे के घर के पास पुलिया निर्माण, भगड़वा तालाब का सुंदरीकरण। ग्राम पंचायत मुंडेरवाकला में अयोध्या के घर से पिपरी पुल तक मिट्टी पटाई। ग्राम पंचायत टिकरिया में कुट्टी तालाब का सुंदरीकरण। मिश्रौलिया कानूनगो में बेलवा तालाब का सुंदरीकरण, पछुआ तालाब का सुंदरीकरण, बकठोरवा में भउरपुर से बकठोरवा सरहद तक मिट्टी पटाई, मूढ़ाडीहा में दक्षिण पोखरा के पास पुलिया निर्माण, शिवकुमार के घर से खम्हरिया बार्डर तक मिट्टी पटाई, पीडब्ल्यूडी रोड से उरेहा के खेत तक मिटटी पटाई व खड़ंजा निर्माण, खम्हरिया हरिवंश गांव में दासपुरवा से रामबली पुरवा तक मिट्टी पटाई। पंडरीबल्लभ में पेरा तालाब के पास पुलिया निर्माण। ग्राम पंचायत विशुनपुर बैरिया में मलारी बार्डर तक मिट्टी पटाई व खड़ंजा निर्माण।