दीवाली बाद मोदी देगें काशी की जनता को बेहद ही खास सौगात

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी को बेहद ही खास सौगात देने जा रहे हैं। आने वाला वक्त इसलिए खास है क्योंकि आजादी के बाद पहली बार कोई मालवाहक जहाज अंतर्देशीय जलमार्ग से माल की ढुलाई करते हुए वाराणसी पहुंचेगा और इसी के साथ पीएम मोदी काशी में बने बहुपक्षीय टर्मिनल को राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

बता दे कि 12 नवंबर को पहली बार राष्ट्रीय जलमार्ग (एनडब्ल्यू)-1 यानी वाराणसी-हल्दिया जलमार्ग से कोलकाता से चले एमवी आरएन टैगोर पोत खाद्य पदार्थों एवं स्नैक्स से भरे 16 कंटेनर के साथ वाराणसी पहुंचेगा। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी के रामनगर में बने बहुपक्षीय टर्मिनल का उद्घाटन करेंगे।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट में लिखा कि “भारत में यह इस हफ्ते की सबसे बड़ी खबर होनी चाहिए। आजादी के बाद पहली बार अंतर्देशीय जलमार्ग पर कोई जहाज चल रहा है। पेप्सिको के 16 कंटेनर के साथ एमवी आरएन टैगोर पोत गंगा के रास्ते कोलकाता से वाराणसी की ओर बढ़ रहा है। इतनी बड़ी उपलब्धि!”

गडकरी ने ट्वीट में आगे लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी अंतर्देशीय जलमार्ग पर सफर करने वाले पहले जहाज को राष्ट्रीय जलमार्ग (एनडब्ल्यू)-1 वाराणसी के गंगा तट पर बने बहुपक्षीय टर्मिनल पर 12 नवंबर को रिसीव करेंगे और यह टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

इस टर्मिनल के साथ ही पीएम मोदी काशी की जनता को लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से वाराणसी तक बने नेशनल हाईवे और वाराणसी रिंग रोड का भी लोकार्पण करेंगे इसकी जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट में लिखा रिकॉर्ड समय में तैयार बाबतपुर एयपोर्ट से वाराणसी नेशनल हाईवे और वाराणसी रिंग रोड को भी समर्पित करेंगे।

आपको बता दें कि गंगा पर वाराणसी से हल्दिया के बीच शुरू होने वाली जल परिवहन योजना में वाराणसी को कार्गो हब के तौर पर विकसित किया जा रहा है। जिसके लिए रामनगर में बहुपक्षीय टर्मिनल बनकर तैयार है जिसे अब कार्गो हब के तौर पर विस्तार दिया गया है। इस टर्मिनल में कार्गो के अलावा कोल्ड स्टोरेज, बेवरेज हाउस और पैकिंग की सुविधा होगी। जिससे देश के कोने कोने से उत्पाद रेल, रोड और जलमार्ग से काशी पहुंचेंगे।

=>
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com