मिर्जापुर

पक्कापुल चुनार से किशोरी ने लगाई गंगा में छलांग, मौत

मिर्जापुर। तकरीबन डेढ़ दशक के लंबे इंतजार के बाद ऐतिहासिक चुनार नगर स्थित गंगा नदी पर बना नवनिर्मित सेतु सुसाइड प्वाइंट साबित हो रहा है। उद्घाटन के बाद से ही अब तक कई युवाओं ने इस पुल से गंगा में छलांग लगाकर अपनी ईह लीला समाप्त करने का कार्य किया है। कुछ को तो बचाया जा चुका है जबकि कुछ की मौत हो चुकी है। मंगलवार को एक और छात्रा ने पुल की रेलिंग से गंगा के बीच धारा में छलांग लगाकर अपनी इह लीला समाप्त कर ली है। जिसकी पहचान चुनार थाना क्षेत्र के मगरहा गांव निवासी 10 वीं छात्रा नेहा के रूप में हुई है।
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक किशोरी दुपट्टे से मुंह बांधकर पक्कापुल पर पहुंची थी। जब तक लोग कुछ समझ पाते कि तब तक उसने पुल से गंगा में छलांग लगा कर आत्महत्या कर ली। राहगीरों से मिली सूचना के आधार पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव की तलाश की। घंटों मशक्कत के बाद शव मिला। जानकारी होने पर परिवार के लोग भी मौके पर पहुंच गए थे जिनका रो-रोकर बुरा हाल रहा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार किशोरी स्कूल बैग लेकर पुल पर पहुंची और उसने दुपट्टे से अपना मुंह बांध लिया। जब तक लोग कुछ समझ पाते, उसने गंगा में छलांग लगा दी। पुलिस के अनुसार किशोरी नेहा 16पुत्री राजबली, निवासी मंगरहा, हांसीपुर शिवाजी नेशनल इंटर कालेज में 10 वीं की छात्रा थी। रोज की तरह वह घर से नाश्ता करके स्कूल के लिए निकली। लेकिन सीधे चुनार के पक्के पुल पहुंच गई और गंगा नदी में कूद गई। मृतका नेहा चार बहनों में दूसरे नंबर पर थी जबकि एक पांच वर्षीय भाई भी है। परिवार में मां रीता देवी के अलावा सभी भाई बहन हैं। पिता जीविकोपार्जन के लिए लखनऊ रहते हैं। शव मिलने के बाद पुलिस ने परिजनों को सूचना दे दी जिसके बाद वहां पहुंचे परिजनों व पड़ोसियों में कोहराम मच गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com