सपा विधायक द्वारा पोल खोलो सम्मेलन के ऐलान से विरोधियों मे खलबली

फिरोजाबाद। सिरसागंज के सपा विधायक एवं सैफई परिवार के करीबी रिस्तेदार हरिओउम यादव द्वारा 22 जनवरी को षिकोहाबाद के रामलीला मैदान में आयोजित पोलो खोलो सम्मेलन बुलाये जाने से सपा खेमे में खलबली मची हुई है। सम्मेलन के ऐलान के बाद से ही सपा महासचिव के सांसद पुत्र अक्षय यादव अब गांव-गांव और गली-गली में घूंमकर अपने समर्थकों के साथ जातिगत समीकरण बैठाने की कोषिष करने के साथ बसपा से हुये गठबंधन के बाद जनपद मे बाइक रैलीया निकाल कर अपने खिसकते हुये धरातल को बचाने मे जुट गये है। इधर सपा विधायक हरिओउम यादव भी अपने समर्थकों के साथ सम्मेलन की सफलता के लिये दिन रात एक किये हुये है।
सपा विधायक हरिओउम यादव द्वारा षिकोहाबाद के रामलीला मैदान में आयोजित पोल खोले सम्मेलन में किसकी क्या क्या पोल खुलेगी यह समय पर ही पता चलेगा लेकिन सम्मेलन को लेकर जनपद भर में जो होर्डिंग लगाये गये है उन पर लगे हुये पूर्व सपा विधायक व प्रसपा जिलाध्यक्ष अजीम भाई एवं अनेकों चेहरों का फोटो चर्चा का विषय बने हुये है। यह वही चेहरे है जो कभी सपा का झंण्डा लेकर परचम लहराते थे वह आज सपा विधायक के साथ खडे होकर उनके पोल खोलो सम्मलेन का समर्थन करने में जुटे हुये है। इसके अलावा जो कभी सपा के खासमखास सिपेहसालारों में गिने जाने थे वह भी आज सपा विधायक के पोल खोलो सम्मेलन के समर्थन में नजर आ रहे है।
यदि सूत्रों की मानें तो इस पोल खोलो सम्मेलन में सपा विधायक द्वारा सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो0 रामगोपाल यादव से सम्बंधित कुछ प्रकरणों को उठाकर उनकी पोल खोली जा सकती है।
गौरतलब है कि प्रदेष में भाजपा की सरकार बनने के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष पद की कुर्सी से सपा विधायक हरिओउम यादव के पुत्र विजय प्रताप यादव उर्फ छोटू को हटाया गया था। जिसके बाद इस कुर्सी पर पुनः काबिज होने को लेकर सपा महासचिव व सपा विधायक के मध्य कडवाहट पैदा हुई थी जिसने धीरे धीरे खाई का रूप ले लिया है। यही नही राजनैतिक झींचतान के चलते सपा विधायक हरिओउम यादव व उनके जिला पंचायत अध्यक्ष पुत्र विजय प्रताप यादव उर्फ छोटू को जेल की यात्रा भी करनी पडी थी। यही नही पिता पुत्र के जेल जाने पर सपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने उनसे दूरी बना ली थी।
अब इस पोल खोले सम्मेलन को लेकर जनपद में राजनैतिक सरगर्मियां तेज होती जा रही है।

=>
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com