उत्तर प्रदेशहरदोई

पूरी श्रद्धा व विश्वास से गणपति बप्पा को दी नम आँखों से विदाई

बिलग्राम हरदोई। ।मालूम हो कि विगत 2 ता0 से नगर में आयोजित श्री गणेश महोत्सव के अंतिम दिन मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा का आयोजन हुआ।जिसमें नगर के मोहल्ला मलकंठ स्थिति श्रीदुर्गा मन्दिर प्रांगण में श्री गणेश महासमिति व गजानन सेवा समिति द्वारा सुभाष पार्क में आयोजित कार्यक्रम के साथ साथ तीसरी ब्रह्म देव सेवा समिति रफैयतगंज ने श्रीगणपति बप्पा की विसर्जन शोभायात्रा निकाल कर नगर भ्रमण करते हुए गुजरी।जिसमें विभिन्न भगवानों के रूप में कलाकारों के स्वागत में लोग उत्सुक दिखे।इस दौरान बड़ी संख्या में भक्तों में बप्पा की विदाई के समय आंखे नम दिखाई दीं।
श्रीगणेश महोत्सव मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा में मनमोहक झांकियों का जगह जगह हुआ स्वागत।गुरुवार के दिन नगर में तीन स्थानों पर आयोजित श्रीगणेश महोत्सव के मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा के अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की उपस्थिति दिखाई दी।सर्वप्रथम श्रीगणेश महासमिति द्वारा सुबह मोहल्ला मलकण्ठ स्थिति श्री दुर्गा मंदिर से वैदिक धर्म के अनुसार पूजा अर्चना के साथ श्रीगणेश जी की लगातार तेरहवें वर्ष मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा निकाली गई।जिसमें आयोजकों द्वारा श्रीकृष्ण राधा, श्रीशंकर पार्वती, मां काली व साईं बाबा आदि कई दरबार कई ट्रैक्टर ट्रॉलीयों पर नगर भ्रमण करते हुए निकले।उन्ही के साथ श्री ब्रम्ह देव सेवा समिति रफैयतगंज की मनमोहक विसर्जन शोभायात्रा भी साथ ही साथ चलती दिखाई दी वहीं स्थानीय सुभाष पार्क में गजानन सेवा समिति द्वारा आयोजित चतुर्थ श्री गणेश महोत्सव की विसर्जन शोभायात्रा दोपहर 11 बजे के साथ निकली।जिसमें श्री शंकर पार्वती,श्रीराम दरबार,मां भारती राधा कृष्ण,श्री गणेश, श्री हनुमानजी समेत कई मनमोहक झांकियां आकर्षक का केंद्र बनी।वहीं नगर के मुख्य मार्गों पर माखन मटकी को तोड़ने का कार्यक्रम आकर्षक का केंद्र बना। इसके अतिरिक्त ट्रैक्टर ट्रॉली पर अन्य झांकियां भी भक्तों की भारी भीड़ के साथ नगर के पीपल चौराहा, बजरिया, ऊपरकोट,कासूपेट से होते हुए चौराहा बस स्टैंड से वापस सदर बाजार रोड से राजघाट गंगा तट के लिए प्रस्थान हुई।इस अवसर श्रद्धालुओं द्वारा कई जगहों पर स्वागत किया गया।विसर्जन शोभायात्रा में मुख्य रूप से अपनी अपनी शोभायात्रा के साथ महेश राठौर मुकेश राठौर कौशलेंद्र सिंह गुड्डा, रामकृष्ण गुप्ता उर्फ टिल्लू,ज्ञानू मिश्रा,नन्हे मिश्रा, हरिनाम कुशवाहा,परमाई लाल यादव, अमित विश्वास, मनोज ओमर,विनोद शर्मा सहित कई लोग शामिल रहे।इस मौके पर भारी भीड़ को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी कोतवाल अमरजीत सिंह के साथ कस्बा राशिद खान ने सर्वश्रेष्ठ ढंग से निभाई।वहीं हाईकोर्ट के डीजे पर हर स्तर के प्रतिबंध लगाने के कारण नगर में कार्यक्रम आयोजकों द्वारा मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा में डीजे को नहीं प्रयोग किया गया।

loading...
Loading...

Related Articles