Thursday, October 1, 2020 at 12:08 PM

सुदीक्षा के पिता ने कहा-पुलिस बयान वापस ले, वरना परिवार समेत आत्महत्या कर लूंगा

मेरठ। यूएस में स्कॉलर्स छात्रा सुदीक्षा भाटी की सड़क हादसे में मौत पर हुई एफआईआर से परिजन बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हैं। सुदीक्षा के पिता जितेंद्र भाटी ने कहा कि मैंने पुलिस को जिस प्रकार घटनाक्रम बताया था, उस अनुसार धाराएं नहीं लगाई गईं।

बुधवार को मीडिया से बातचीत में जितेंद्र भाटी ने कहा, मैंने घर से तीनों (सुदीक्षा, चचेरा भाई निगम व उसका पिता सतेंद्र भाटी) भेजे थे। हो सकता है कि रास्ते में मेरा भाई सतेंद्र बाइक से उतर गया, लेकिन मैं पूरी तरह कन्फर्म नहीं हूं। बुलंदशहर जिले के पुलिस-प्रशासन ने यह बयान दिया है कि नाबालिग बच्चा वाहन चला रहा था। जितेंद्र भाटी ने कहा कि मैं अपने भाई सतेंद्र का वह बयान वापस लेता हूं, जिसमें उन्होंने खुद बाइक चलाने की बात कही है। लेकिन पुलिस-प्रशासन अपना वह बयान वापस ले, जिसमें उन्होंने इसे सिर्फ हादसा बताया है क्योंकि यह हादसा जान बूझकर किया गया था।

जितेंद्र भाटी ने स्पष्ट कहा कि बुलेट सवार दो युवक परेशान कर रहे थे, जिससे उनकी बेटी सुदीक्षा की मौत हुई है। सुदीक्षा के पिता ने उस चश्मदीद पर भी सवाल उठाए हैं, जिसने इसे सिर्फ हादसा बताया है। जितेंद्र भाटी ने कहा कि उस चश्मदीद से मैं सवाल पूछना चाहता हूं, क्योंकि मैं पीड़ित पिता हूं। उन्होंने कहा कि बुलंदशहर के डीएम-एसएसपी अगर नाबालिग के वाहन चलाने वाले बयान को वापस नहीं लेंगे तो मैं अपनी पत्नी और पांच बच्चों सहित आत्महत्या कर लूंगा।

loading...
Loading...