Tuesday, October 27, 2020 at 3:53 AM

कोरोना बीमारी से, पूर्व प्रधानाचार्य का असामयिक निधन

बिलग्राम हरदोई । कोरोना जैसी घातक बीमारी से ग्रसित बाबा मन्शानाथ इंटर कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य का निधन हो गया निधन का समाचार मिलते ही उनके शुभचिंतकों में शोक व्याप्त हो गया।
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से  अपने जीवन की शुरुआत करने वाले पूर्व प्रधानाचार्य रामस्वरूप वर्मा मूलतः मल्लावां कोतवाली अंतर्गत ग्राम बरहुआ के  निवासी थे लेकिन इंटर कॉलेज में चयन होने के बाद वह नगर में ही मकान बनाकर रहने लगे थे काफी मिलनसार श्री वर्मा बिलग्राम में होने वाले तमाम धार्मिक कार्यक्रमों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते चले आ रहे थे। वह नगर में होने  वाली ऐतिहासिक रामलीला के एक बार प्रबंधक भी चुने गए थे। श्री वर्मा विगत कई दिनों से जुखाम बुखार खांसी से पीड़ित चले आ रहे थे जिनकी कोरोना जांच पॉजिटिव आने के बाद उनको इलाज के लिए मलिहामऊ के  क्वॉरेंटाइन सेंटर में भी रखा गया था लेकिन हालत दिन पर दिन खराब होने के कारण उन्हें लखनऊ के मेडिकल कॉलेज ले जाया गया जहां पर उनकी मौत हो गई श्री वर्मा की मौत का समाचार मिलते ही उनके शुभचिंतकों में शोक का माहौल दौड़ गया। और हर कोई श्री वर्मा की सौम्य और  सरलता का हवाला देता नजर आ रहा था। उनके निधन पर पालिका अध्यक्ष हबीब अहमद ,रामलीला कमेटी के पूर्व प्रबंधक धर्मेंद्र यादव ,अजय राज त्रिवेदी ,परमाई लाल यादव, रामकृष्ण गुप्ता उर्फ टिल्लू ,पूर्व चेयरमैन  पति राजारमन गुप्ता, रामलीला कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप कुमार यादव, प्रदीप गुप्ता, रामलीला कमेटी के प्रबंधक नीरज सिंह बेहटा ,अनिल तिवारी, रामसेवक यादव, पवन दुबे ,रोहित शुक्ला आदि ने संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए मौन रखकर ईश्वर से उनके परिजनों को असीम दुख सहने की कामना की

loading...
Loading...