लखनऊ

भ्रष्टाचार नियंत्रित करने वाले कदमों का विरोध कर रही कांग्रेस : नकवी

लखनऊ । केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण और संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) आर्थिक भ्रष्टाचार पर सबसे बड़ी चोट है  उन्होंने माना कि इसके सकारात्मक परिणाम आने में थोड़ा समय लगेगा लेकिन साथ ही कहा कि यह तय है कि इससे भ्रष्टाचारियों पर लगाम लगेगी उन्होंने नोटबंदी का विरोध कर रही कांग्रेस को आडे हाथों लिया और कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार को नियंत्रित करने वाले कदमों का विरोध कर रही हैं  क्योंकि वह ‘इललीगल पॉलीटिकल फंडिंग’ बंद होने के कारण कांग्रेस तिलमिला गई है शुक्रवार को आईपीएन से विशेष बातचीत में श्री नकवी ने कहा कि कांग्रेस नहीं चाहती कि देश से भ्रष्टाचार समाप्त हो इसीलिए वह नोटबंदी और जीएसटी का लगातार विरोध कर रही है।
उन्हांने माना कि नोटबंदी और जीएसटी की वजह से लोगों को थोड़ी परेशानी हुई है कहा कि इसके बावजूद जनता ने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए उठाये गये इन दोनों कदमों का समर्थन किया है श्री नकवी ने कहा कि कांग्रेस को जनता की नब्ज समझनी चाहिए उन्होंने कहा कि करीब 60 वर्षों तक शासन करने वाली कांग्रेस भ्रष्टाचार को नियंत्रित करने वाले कदमों का विरोध कर रही है केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आर्थिक भ्रष्टाचार पर नोटबंदी और जीएसटी सबसे बड़ी चोट है और इसके सकारात्मक परिणाम जरुर दिखेंगे  हमें इसके नतीजों को लेकर जल्दबाजी नहीं की जानी चाहिए उन्होंने कहा कि इसके सकारात्मक परिणाम आने में थोड़ा समय लगेगा लेकिन इतना तय है कि इससे भ्रष्टाचारियों पर लगाम लगेगी।
श्री नकवी ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी आर्थिक सुधार और अर्थव्यवस्था से भ्रष्टाचार का नामोंनिशान मिटाने की दिशा में अब तक का सबसे बड़ा प्रयास है  इन दोनों कदमों पर जनता ने नरेन्द्र मोदी सरकार पर भरोसा जताया है क्योंकि लोग ‘करप्शन फ्री’ माहौल चाहते हैं आर्थिक सुधारों के लिए उठाये गये इन दोनों कदमों ने भ्रष्टाचार पर सबसे बड़ी चोट की है उन्होंने कहा कि यह सही है कि नोटबंदी से लोगों को थोड़ी कठिनाई हुई है लम्बी लाइनें लगी हैं करेंसी की दिक्कत हुई, फिर भी लोगों ने इसका समर्थन किया क्योंकि भ्रष्टाचारियों के अलावा हर नागरिक भ्रष्टाचार पर अंकुश चाहता है।
उन्होंने दावा कि इससे फर्जी नोट और आतंकवादियों की ‘फंडिंग’ पर लगाम लगा है और नक्सलवाद की कमर टूट गई है उन्होंने नोटबंदी के कारण बेरोजारी बढ़ने और रोजगार के अवसरों में कमी आने के आरोपों को खारिज किया और कहा कि स्टार्टअप इण्डिया और मेक इन इण्डिया की वजह से रोजगार के अवसर बढ़े हैं जीएसटी परिषद द्वारा कुछ सामानों पर जीएसटी कम किये जाने का उन्होंने स्वागत किया और कहा कि ‘फीडबैक’ के अनुसार समय-समय पर इसमें सुधार होता रहेगा अभी तक जीएसटी में फीडबैक के आधार पर ही तीन बार संशोधन किये गये हैं।
loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com