अमेठीउत्तर प्रदेश

खनन माफियाओं ने पुलिसकर्मियों को बंधक बनाकर पीटा, एक गिरफ्तार

अमेठी। अवैध खनन के काले धंधे पर भले ही मुख्यमंत्री से लेकर हाईकोर्ट को सुप्रीम कोर्ट भी सख्त हो, लेकिन इसके बावजूद यूपी में यह खेल बदस्तूर जारी है। हद तो तब हो गई जब बेखौफ खनन माफियाओं का कहर अमेठी पुलिस पर जमकर टूटा। अवैध खनन रोकने गई पुलिस टीम की खनन माफियाओं ने बंधक बनाकर जमकर पिटाई की। जिसमें अलीगंज चौकी के सिपाही सूर्य प्रकाश यादव, देवेश कुमार और पुष्पराज घायल हो गये। घायल पुलिसकर्मियों को इलाज हेतु सीएचसी में भर्ती कराया गया। इस मामले में सिपाही सूर्य प्रकाश यादव की शिकायत पर 15 लोगों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया। खबर लिखे जाने तक़ पुलिस ने एक आरोपी केशराज पासी को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, अमेठी के मुसाफिरखाना कोतवाली अंर्तगत आने वाली अलीगंज चौकी पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि अलीगंज चौकी अंर्तगत गाँव कटइया ऊँचगाँव में अवैध खनन हो रहा है। अवैध खनन की सूचना पाकर पहुंचे अलीगंज चौकी के सिपाही सूर्य प्रकाश, देवेश कुमार व पुष्पराज ने खनन कर रहे लोगो से पूछताछ शुरू कर दी। जानकारी ले रहे पुलिसकर्मियों को खनन माफिया के दस पंद्रह समर्थको ने बंधक बनाकर जमकर पीटा। कुछ देर बाद चौकी पुलिस को आते देख खनन माफिया व उनके समर्थक भाग खड़े हुए इसमें अलीगंज चौकी के सिपाही सूर्यप्रकाश यादव, देवेश कुमार व पुष्पराज घायल हो गए। जिनको इलाज के लिये स्थानीय सीएचसी में भर्ती कराया गया।
मुसाफिरखाना कोतवाल पारस नाथ सिंह ने बताया कि अलीगंज चौकी के सिपाही सूर्यप्रकाश यादव कि शिकायत पर ग्राम प्रधान राघवेन्द्र द्विवेदी, आशुतोष पाण्डेय, केशराज पासी, तुलसीराम, डीविलियस, अरविन्द, सोनू, राहुल सहित 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इनमें से एक आरोपी केशराज पासी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी आरोपी अभी फरार हैं जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

loading...
=>

Related Articles