पिपरडीह पंचायत में पेयजल आपूर्ति को लेकर पीएचडी पर जमकर बरसे डीएम

नौहट्टा/रोहतास: प्रखंड क्षेत्र के कैमूर पहाड़ी पर स्थित पिपरडीह पंचायत के 10 वार्डो का जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का समीक्षा किया। बताया गया कि सरकार द्वारा निर्देश पर डीएम धर्मेंद्र कुमार सहित एसडीएम समीर सौरभ डीसीएलआर श्वेता मिश्रा की संयुक्त टीम ने पिपरडीह पंचायत में चलाए गए बिहार सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं का जांच किया ।जहां सबसे ज्यादा पीएचडी के नल जल में कराए गए कार्यों में अनियमितता पाया गया है। कई वार्डों में स्ट्रक्चर अधूरा है तो कहीं स्ट्रक्चर बनने के बाद हर एक घर में नल का कनेक्शन नहीं लगाया गया है । साथ ही कई जगहों पर पानी भी उपलब्ध नहीं है।

जांच में डीएम ने पाया कि नया डीह वार्ड 8 हुरमेठा वार्ड 8 जरा दाग वार्ड संख्या 3 में अभी तक नल का कनेक्शन शुरू नहीं हुआ है। साथ ही कई वार्डों में बोर होने के बाद भी जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। पहाड़ी गांव में जलापूर्ति के लेकर डीएम दिखे सख़्त ।पीएचडी के जेई ईश्वरी प्रसाद से मांगा जवाब किया कड़ी पूछताछ, साथ ही उनके वेतन निकासी पर भी डीएम धर्मेंद्र कुमार ने रोक लगा दी है। साथ ही निर्देश दिया गया है कि क्यों नहीं सरकारी राशि का निकासी व्यय मानते हुए वसूली हेतु नीलाम पत्र वाद दायर किया जाए। साथ ही निर्देश दिया गया कि संवेदक से संपर्क करते हुए 14 दिनों के अंदर जल आपूर्ति प्रारंभ करना सुनिश्चित करें। पीएचडी के अभियंता को निर्देश दिया गया कि पीपड़ी पंचायत के वार्ड वार पोस्ट व्यय राशि प्राक्कलन राशि की विवरण 2 दिनों के अंदर अधोहस्त को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

See also  घर-घर दस्तक टीकाकरण के तहत 850 लोगों ने टिका लिया

जिलाधिकारी ने पहाड़ की विद्यालयों की जांच किया। जिसमें शिक्षकों की अनुपस्थिति संबंधित शिकायत प्राप्त हुई। जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि विद्यालय का औचक निरीक्षण करना सुनिश्चित करें। वही स्वास्थ्य उप केंद्र सोली की जांच की गई जहां आमजन कि शिकायत मिली की समान तौर पर प्राथमिक उप स्वास्थ्य केंद्र बंद रहता है। इस संबंध में एएनएम उर्मिला कुमारी एवं एनएम रीता कुमारी से कारण पूछा गया साथ ही सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया कि औचक निरीक्षण करना सुनिश्चित करें।

वहीं अनुसूचित जनजाति विद्यालय सोली का निरीक्षण जिलाधिकारी ने किया कार्य एवं व्यवस्था संतोष जनक पाया गया बताया गया कि अतिरिक्त भवनों की आवश्यकता के दृष्टिकोण से सचिव भवन निर्माण विभाग को पत्र भेजा जाएगा। वही वनवासियों के द्वारा पीडीएस दुकानदारों का निरीक्षण के दौरान शिकायत प्राप्त हुई जहां जिलाधिकारी ने वार्ड 3 एवं अन्य वार्डों में राशन वितरण में अनियमितता की शिकायत मिली एसडीएम डेहरी के निर्देश दिया गया कि जांच करना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही मनरेगा एवं आवास योजना की भी जिला अधिकारी के द्वारा जांच की गई वार्ड 3 में मनरेगा योजना की शिकायत प्राप्त हुई। जिसमें जॉब कार्ड लाभुकों का नहीं बना है मनरेगा का कार्य अधिकांश वार्ड में नहीं पाया गया है वहीं चापाकल के निरीक्षण में अधिकांश खराब पाए गए कार्यपालक अभियंता पीएचडी को कारण पूछते हुए खराब पाए गए चापाकल कुछ 14 दिन के अंदर मरम्मत कराने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया है।