UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 10:25 AM

सभी स्कूलों और माध्यमिक विद्यालयों में “आरोग्य वाटिका” स्थापित करने के निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए सभी स्कूलों और माध्यमिक विद्यालयों में “आरोग्य वाटिका” स्थापित करने का निर्देश दिया है। उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के निर्देश पर यह निर्णय लिया गया जिनके पास माध्यमिक शिक्षा विभाग का प्रभार भी है।

शर्मा ने कहा, ‘हमने राज्य के सभी माध्यमिक विद्यालयों में आरोग्य वाटिका स्थापित करने का फैसला किया है। इससे न केवल पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी बल्कि औषधीय पौधों के उपयोग से विद्यार्थियों और उनके परिवारों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और कल्याण में मदद मिल सकती है।”

शर्मा ने कहा, “आरोग्य वाटिका” का विचार स्थानीय पत्रकार सुधीर मिश्रा के दिमाग की उपज है, जो अपने अखबार की मदद से उद्यानों, पुलिस थानों, स्कूलों और अन्य स्थानों पर इस तरह के बगीचे को विकसित करने का अभियान चला रहे हैं।

मिश्रा ने बताया कि पिछले दो वर्षों से वह औषधीय पौधों वाले इस तरह के बगीचे को विकसित करने के लिए अभियान चला रहे थे और जिला प्रशासन, पुलिस और मंत्रियों को अभियान में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था।

पिछले महीने इसी तरह के एक अभियान के दौरान उप मुख्यमंत्री शर्मा को यह विचार पसंद आया और उन्होंने इसे राज्य के सभी माध्यमिक विद्यालयों में लागू करने की घोषणा की।

इस संबंध में अब शिक्षा निदेशक विनय कुमार पांडेय द्वारा एक आदेश जारी कर सभी जिला विद्यालयों के निरीक्षकों को औषधीय पौधे लगाने के लिए ‘आरोग्य वाटिका’ स्थापित करने के लिए जगह की पहचान करने का निर्देश दिया गया है। आदेश में कहा गया है, “तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा, स्टीविया,आंवला,अमरूद, हल्दी, चंदन, सहजन और कई अन्य पौधों को लगाया जाना चाहिए क्योंकि वे प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं।