UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 9:00 PM

शादी का झांसा देकर युवती से किया शारीरिक शोषण…

बिजनौर ।  कोतवाली शहर निवासी एक युवती ने एसपी को दिए प्रार्थनापत्र में कहा कि उसकी हल्दौर क्षेत्र के गांव नांगलजट निवासी अभिनव पुत्र जितेंद्र उर्फ कल्लू से वर्ष 2019 में कोचिग सेंटर पर मुलाकात हुई। पीड़िता का कहना है कि युवक ने उसके परिजनों से मिलकर उससे शादी करने का इरादा जताया। आरोप है कि अभिनव शादी का झांसा देकर उसे ऋषिकेश ले गया और बद्रीनाथ मार्ग स्थित एक होटल में उसकी मर्जी के बिना उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। उसका कहना है कि अभिनव ने कई माह तक उसका शारीरिक शोषण किया। बाद में अभिनव से उससे शादी करने से यह कहते हुए मना कर दिया कि उसकी शादी कही और तय हो गई है। पीड़िता का आरोप है कि जब वह 25 अगस्त 2021 को अभिनव के घर पहुंची, तो अभिनव व उसके पिता एवं अन्य स्वजन ने उसके साथ मारपीट की। बाद में अभिनव एवं उसके पिता एक दिन उसके घर आए और उसके स्वजन को जान से मारने की धमकी दी। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने मंगलवार रात पिता-पुत्र के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। कोतवाल राधेश्याम ने रिपोर्ट दर्ज किए जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि दोनों आरोपियों की तलाश की जा रही है।

किसान पर जानलेवा हमले की जांच आरोपितों से हमसाज होकर बदल दी। जिसको लेकर भारतीय किसान यूनियन (भानु) के जिलाध्यक्ष नरेश प्रधान के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल डीआइजी मुरादाबाद से मिला।

थाना मंडावली क्षेत्र के गांव नारायणपुर रतन निवासी तस्लीम पुत्र सुक्खे पर छह सितंबर को गांव के ही याकूब, महफूज, सैमून, मारूफ ने जानलेवा हमला कर दिया था। जिसका मुकदमा थाना मंडावली में दर्ज हो गया था। तत्कालीन विवेचना अधिकारी ने मेडिकल के आधार पर धाराएं बढ़ा दी थीं। उसके बाद भी उपरोक्त आरोपित गांव में खुलेआम घूम रहे हैं तथा पीड़ित को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़ित ने अपनी विवेचना बदलवाने के लिए किसी अधिकारी को अपना प्रार्थना पत्र नहीं दिया था। लगभग एक माह बाद ही क्राइम ब्रांच के विवेचना अधिकारी की कॉल आई कि मुकदमे की जांच थाना मंडावली से बदल कर क्राइम ब्रांच को कर दी गई है। जिलाध्यक्ष नरेश प्रधान का कहना है कि पीड़ित किसान के साथ पहले तो मंगलवार को एसपी व एसपी सिटी से मिले, लेकिन कोई संतोषजनक उत्तर नहीं मिला। जिलाध्यक्ष नरेश प्रधान के नेतृत्व में किसान प्रतिनिधिमंडल बुधवार को पीड़ित किसान के साथ डीआईजी मुरादाबाद के दरबार में पहुंचे।