‘यूपी उत्सव’ 25 अक्टूबर से 4 नवम्बर तक

लखनऊ। इस वर्ष “यूपी उत्सव” का आयोजन 25 अक्टूबर से 4 नवम्बर तक हनुमान सेतु के निकट स्थित झूलेलाल घाट में किया जाएगा। पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य को लेकर आयोजित इस उत्सव में पर्यावरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली हस्तियों को पर्यावरण रत्न दिया जाएगा। यही नहीं पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए पौधों का निःशुल्क वितरण किया जाएगा। शुक्रवार को कैसरबाग स्थित प्रेस क्लब में “यूपी उत्सव” का पोस्टर रिलीज किया गया।
प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट की ओर से आयोजित इस यूपी उत्सव में पर्यावरण जागरण के लिए विभिन्न कार्यक्रम होंगे। पारंपरिक कलाओं को मंच देने के साथ साथ प्रतिभाओं को प्रोत्साहित भी किया जाएगा। इस उत्सव के दौरान हस्तकला मेले और पारंपरिक खानपान की स्टॉल्स भी लगायी जाएंगी। बच्चों के लिए झूले होंगे और समाज के विशिष्ट जनों का सम्मान भी किया जाएगा।
ट्रस्ट के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने बताया कि “यूपी उत्सव” में पर्यावरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली हस्तियों को पर्यावरण रत्न दिया जाएगा। प्रतिभाशाली बच्चों को बाल प्रतिभा रत्न से नवाजा जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के “मिशन इंडिया क्लीन” के तहत स्वच्छता के क्षेत्र में विशेष उपलब्धि हासिल करने वाले व्यक्तियों को स्वच्छता सम्मान से अलंकृत किया जाएगा। इसके साथ ही महिला सम्मान समारोह भी होगा। यही नहीं समाज के हित में लगे विभिन्न सरकारी अधिकारियों का खासतौर से “यूपी उत्सव” के मंच पर अभिनंदन किया जाएगा जिससे कि वह दूसरों के लिए नजीर बनें।
इसके साथ ही मेले में सौ से अधिक स्टॉल होंगे जिनके माध्यम से हस्तशिल्प और स्वरोजगार को प्रोत्साहित किया जाएगा। राजस्थानी खानपान और फास्ट फूड की भी स्टॉल्स होंगी। युवाओं और बच्चों के लिए रोमांचक झूले भी रहेंगे। बाल प्रतियोगिताएं दिन में होंगी वहीं शाम को संगोष्ठियां और सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। उन सांस्कृतिक कार्यक्रमों में उत्तर प्रदेश संग देश के अन्य प्रदेशों की कलाओं को भी पेश किया जाएगा।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper