सभी के अधिकारों-कर्तव्यों से सीधा जुड़ा है देश का विकास : जनपद न्यायाधीश तेज बहादुर सिंह

बागपत। बागपत जनपद के प्रभारी जनपद एवं सत्र न्यायाधीश और जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बागपत के अध्यक्ष तेज बहादुर सिंह ने आज न्यायालय परिसर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के एक कार्यक्रम में कहा है कि सभी लोगों को उनके अधिकारों और कत्र्तव्यों से परिचित कराने तथा लोगों को उनका अधिकार देने से देश का विकास सीधे जुड़ा है। इसके बिना आम लोगों की मजबूती, उनका सशक्तिकरण और उन्हें सभी उपलब्ध अवसरों का फायदा दिलाना असम्भव है। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण (नालसा) के मार्गनिर्देशन और उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर आज न्यायालय परिसर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बागपत के तत्वावधान मंे अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन द्वारा आयोजित जन जागरण सह विधिक जागरूकता रथयात्रा को झण्डी दिखाकर रवाना करने के बाद श्री सिंह ने कहा कि लोगों को व्यापक स्तर पर निःशुल्क विधिक सेवाओं और लोक अदालतों की जानकारी देना आज की जरूरत है।

समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बागपत के सचिव श्री निशांत मान ने कहा कि अदालतों से जुड़ी आम लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करना सबसे अधिक जरूरी है और जन जागरण सह विधिक जागरूकता रथयात्रा के माध्यम से इसमें सफलता मिलेगी। उद्घाटन समारोह में अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डाॅ0 माधव शंकर पाठक ने कहा कि राजधानी लखनऊ में विधिक जागरूकता रथयात्रा की शुरूआत के बाद अनेक जनपदों में अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में संगठन को सफलता मिल रही है। इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए संगठन के पदाधिकारी, विधिक सेवक और कार्यकत्र्ता बागपत शहर सहित जनपद के खेकड़ा, पिलाना, बिनौली, बड़ौत, छपरौली आदि में व्यापक स्तर पर जनसंपर्क कर लोगों को अधिकारों, कत्र्तव्यों, निःशुल्क विधिक सहायता और नालसा की 10 सूत्री योजनाओं की जानकारी देंगे।

उद्घाटन समारोह में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री रमेश चन्द्र, प्रधान जज (फेमिली कोर्ट) श्री समरपाल सिंह, बलियान, अपर जज श्रीमती मनु कालिया, अपर जज फास्ट ट्रैक कोर्ट श्री शक्ति पुत्र तोमर, अपर जज श्री बिपिन कुमार, सिविल जज श्री शोभित बंसल सहित अनेक न्यायिक पदाधिकारियों, कर्मचारियों, बाॅर एसोसिएशन के पदाधिकारियों, विद्वान अधिवक्ताओं आदि ने भाग लिया।
समारोह में अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के मेरठ मण्डल अध्यक्ष नरेन्द्र कुमार सिंह, राष्ट्रीय सचिव हरिशंकर यादव, प्रदेश सचिव सुरजीत सिंह तोमर, राष्ट्रीय युवा प्रभारी आदेश कुर्मी, कैलाश चन्द, कीर्तिमान पाठक, नीलू, मंगत राम, योगेश प्रसाद, ज्योति वंशिका, दीपिका ठाकुर, जया, किरण, रवि राजपूत, धर्मदेव ठाकुर, गजेन्द्र जी, सुरेन्द्र कुमार, फेरू सिंह, नरेश कुमार, बन्टी ठाकुर, ओमकरण सिंह सहित अन्य पदाधिकारी, कार्यकर्ता, विधिक सेवक और स्वयंसेवक उपस्थित थे। पिछले 4 नवम्बर से जारी जन जागरण सह विधिक जागरूकता रथयात्रा को इलाहाबाद उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायमूर्ति श्री अरूण टंडन ने लखनऊ में झण्डी दिखाकर रवाना किया था। तब से आम लोगों के बीच इस अभियान को भरपूर समर्थन मिल रहा है और लोग अपने अधिकारों तथा कत्र्तव्यों के प्रति सजग हो रहे हैं।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper