Main Sliderउत्तर प्रदेशप्रयागराजलखनऊ

यूपी कैबिनेट की बैठक आज, जाने क्यों किया जा रहा इलाहाबाद का नाम प्रयागराज?

लखनऊ। यूपी कैबिनेट की आज होेने वाली बैठक मे माना जा रहा है कि इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने पर फैसला हो सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सभी मंत्रियों को इस बात का नोट भेज दिया गया है।

बता दें कि यूपी सरकार कुम्भ मेले से पहले ही इलाहाबाद का नाम बदलने पर गंभीरता से विचार कर रही है। हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि संत लगातार इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयाग करने की मांग उठा रहे थे। कुंभ मार्गदर्शक मंडल की बैठक में भी यह मुद्दा प्रमुखता से उठा था। बैठक की अध्यक्षता कर रहे राज्यपाल रामनाईक ने भी इस पर सहमति जताई। उन्होंने कहा कि जहां दो नदियों का मिलन होता है, उसे प्रयाग कहा जाता है। उत्तराखंड में देवप्रयाग, कर्णप्रयाग और विष्णुप्रयाग हैं।

इलाहाबाद में भी देवभूमि से निकलने वाली दो पवित्र नदियां मिलती हैं इसलिए इसे प्रयागराज कहा जाता है। उन्होंने कहा कि सरकार जल्द ही औपचारिकताएं पूरी कर इलाहाबाद का नाम प्रयागराज कर देगी। बीजेपी ने जहां सरकार के इस कदम का स्वागत किया है वहीं कांग्रेस और समाजवादी पार्टी इसके विरोध में हैं। यूपी सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने भी कहा कि नाम बदलने से हालात नहीं बदलने वाले हैं।

loading...
=>

Related Articles